रेलवे अंडर ब्रिज का जलभराव खाली करने के लिए लगी साढ़े सात हॉर्स पावर की मोटर भी बेकार

Shajapur News - भास्कर संवाददाता | शुजालपुर मंडी क्षेत्र में रेलवे फाटक के समीप बनाए गए अंडरब्रिज का मार्ग सकरा होने से बार-बार...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 09:25 AM IST
Shujalpur News - mp news the seven horse power motor used to evacuate the water bottle of railway underground was also useless
भास्कर संवाददाता | शुजालपुर

मंडी क्षेत्र में रेलवे फाटक के समीप बनाए गए अंडरब्रिज का मार्ग सकरा होने से बार-बार जाम लग रहा है। वहीं नगर पालिका द्वारा बनाए गए संपवेल की गहराई कम होने से बारिश में यहां साढ़े हॉर्स पावर क्षमता का 24 घंटे चलने वाला पंप भी बेकार साबित हो रहा है। करीब 3 वर्ष पूर्व रेलवे द्वारा मंडी क्षेत्र में बनाए गए अंडर ब्रिज का लाभ शहरवासियों को पूरी तरह नहीं मिल पा रहा है। अंडर ब्रिज बेहद सकरा होने से यहां दिन में कई बार वाहन फंसते हैं और जाम की स्थिति बनती है। साथ ही बारिश में सर्वाधिक समस्या देखने को मिल रही हैं।

अंडर ब्रिज में बारिश के पानी के अलावा कृष्णानगर, शंकर नगर सहित आसपास की बस्तियों व रेलवे की खाली भूमि में हुए जलभराव का पानी भूमिगत रिसकर तेजी अंडरब्रिज में जलभराव की स्थिति बनाता है और यहां पानी को खाली करने के लिए बनाए गए संपवेल में साढ़े सात हॉर्स पावर की मोटर भी 24 घंटे चलाने के बाद भी पानी कम नहीं हो रहा। नतीजतन वाहन चालाक परेशान हैं। तेज बारिश में जलभराव होने की स्थिति में दोनों ओर ढलान नुमा रास्ता होने के कारण यहां से वाहन को वापस पीछे ले जाना भी बड़ा जोखिम भरा रहता है। 2 दिनों से अंडर ब्रिज में जलभराव की स्थिति बनी हुई है और वाहनों के पहिए आधे से अधिक डूब जाते हैं। कई बार तो निकलने के दौरान वाहन बीच में ही बंद हो रहे है। वाहन चालक योगेश शर्मा ने बताया साइलेंसर में पानी भर जाने के बाद अंडर ब्रिज में गाड़ी बंद होने पर उन्हें वाहन निकालने के लिए अन्य लोगों को मदद के लिए बुलाना पड़ा। उन्होंने कहा रेलवे ने असुविधाजनक डिजाइन बनाकर निर्माण कराया और रही-सही कसर नगरपालिका ने कम गहराई क्षमता का संपवेल बनाकर पूरी कर दी है। इस बारे में नगर पालिका के उपयंत्री सीपी मालवीय ने बताया संपवेल की गहराई पर्याप्त है तथा धरातल से 3 फीट गहरा होने के अलावा यहां मोटर रखने के लिए अतिरिक्त गहराई का गड्ढा उसके अंदर बनाया गया है। उन्होंने कहा कि आवश्यकतानुसार तकनीकी परीक्षण कराकर इसे और अधिक सुविधाजनक बनाने का प्रयास किया जा सकता है।

इस तरह जलभराव होने से अंडरब्रिज में परेशान होते हैं शहरवासी।

X
Shujalpur News - mp news the seven horse power motor used to evacuate the water bottle of railway underground was also useless
COMMENT