• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sheopur
  • पिछले साल कीटनाशक नहीं छिड़का, मलेरिया विभाग ने इस बार नपा को नहीं दी दवा
--Advertisement--

पिछले साल कीटनाशक नहीं छिड़का, मलेरिया विभाग ने इस बार नपा को नहीं दी दवा

Sheopur News - खाली प्लॉटों की गंदगी से मच्छरों का प्रकोप, पार्षद ने रखी प्लाॅट मालिकों को नोटिस देने की मांग भास्कर संवाददाता...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 03:25 AM IST
पिछले साल कीटनाशक नहीं छिड़का, मलेरिया विभाग ने इस बार नपा को नहीं दी दवा
खाली प्लॉटों की गंदगी से मच्छरों का प्रकोप, पार्षद ने रखी प्लाॅट मालिकों को नोटिस देने की मांग

भास्कर संवाददाता | श्योपुर

शहर का ड्रेनेज सिस्टम पूरी तरह से खराब है। घरों का पानी खाली प्लॉट में जमा हो रहा है। जिससे मच्छर पनप रहे हैं। नगर पालिका ने अभी तक कीटनाशक दवा का भी छिड़काव नहीं कराया है। वार्ड 13 की पार्षद श्वेता आशीष चौहान ने दवा के संबंध में मलेरिया विभाग में संपर्क किया तो पता चला कि पिछले साल नगर पालिका को जो दवा उपलब्ध कराई थी उसका छिड़काव कर यूटीलाइजेस नहीं भेजा। इसी वजह से इस साल मलेरिया विभाग ने नगर पालिका को दवा उपलब्ध नहीं कराई है।

इस लापरवाही को लेकर पार्षद ने सीएमओ से बात की और दवा मंगाकर छिड़कवाने के लिए कहा है। इसके अलावा शहर में खाली प्लॉट में गंदा पानी भर रहा है। संबंधित प्लॉट मालिकों को नोटिस भेजकर कार्रवाई करने की मांग पार्षद ने रखी है। इसके लिए पार्षद ने प्रभारी सीएमओ अरुण कुमार गुप्ता को लिखित आवेदन भी दिया है। पार्षद श्रीमती चौहान का कहना है कि शहर की मधुवन कॉलोनी, केशव नगर, कल्याणपुरम, शिव नगर सहित अन्य कॉलोनियों में खाली प्लॉट हैं। इन प्लाॅटों में सारा गंदा पानी भरा रहता है। जिससे मच्छर भारी तादाद में पनप रहे हैं। लोगों का घरो में रहना मुहाल हो रहा है। प्लॉट मालिकों के खिलाफ नगर पालिका द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। ऊपर से कीटनाशक दवा का भी छिड़काव नहीं किया जा रहा है। पिछले साल मिली दवा का नगर पालिका ने क्या किया, इसका भी लेखा जोखा मौजूद नहीं है।

चार फोगिंग मशीन भी खराब पड़ीं

मच्छर मारने के लिए फॉगिंग मशीन की हकीकत का पता लगाया गया। पार्षद ने बताया कि नगर पालिका और मलेरिया विभाग की दोनों फॉगिंग मशीनें खराब पड़ी हैं। इसी तरह जेल विभाग की भी फॉगिंग मशीन खराब है। कुल चार फॉगिंग मशीन हैं, जिन्हें सुधरवाकर शहर में फॉगिंग तक नहीं कराई जा रही है। पार्षद का कहना है कि यदि समय रहते ध्यान नहीं दिया तो शहर में डेंगू और मलेरिया जैसी घातक बीमारियों का प्रकोप बढ़ जाएगा। इस संबंध में श्योपुर मलेलिया अिधकारी सुनील शर्मा का कहना है कि कीटनाशक दवा छिड़कने के लिए पिछले साल नगर पालिका को उपलब्ध करा दी थी। लेकिन इस दवा का यूटीलाइजेसन नगर पालिका की तरफ से नहीं आया। इस साल डिमांड नहीं आने पर नगर पालिका को दवा उपलब्ध नहीं करा पाए हैं। डिमांड आने पर ही दवा देंगे।

X
पिछले साल कीटनाशक नहीं छिड़का, मलेरिया विभाग ने इस बार नपा को नहीं दी दवा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..