--Advertisement--

लोन का पैसा जमा करने के बाद भी काट ली राशि

कराहल के गणेश बाजार निवासी दीपक पुत्र अशोक कुमार कंषल ने अपनी शिकायत में बताया कि स्वयं का रोजगार स्थापित करने के...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:30 AM IST
कराहल के गणेश बाजार निवासी दीपक पुत्र अशोक कुमार कंषल ने अपनी शिकायत में बताया कि स्वयं का रोजगार स्थापित करने के लिए दो साल पहले मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजनांतर्गत 1 लाख रुपए का बैंक से लोन लिया था। हितग्राही ने स्वयं का रोजगार स्थापित करने के बाद लोन की आधी किस्त तो जमा कर दी, लेकिन परिस्थितियों के कारण वह आधी किस्त जमा नहीं कर सका। एक दिन बैंक ने उसे नोटिस जारी किया। नोटिस मिलने के बाद उसने बैंक जाकर 11 जनवरी को ऋण समाधान योजना के तहत 48 हजार 500 रुपए उसने जमा कर दिए। ऋण के पैसे जमा करने के बाद भारतीय स्टेट बैंक शाखा कराहल के प्रबंधक द्वारा संबंधित से बैंक का किसी प्रकार का लेने-देन नहीं होने का पत्र लिखकर दे दिया। इसके बाद 27 मार्च को बैंक ने हितग्राही के खाते से 3 हजार काट लिए गए। जब हितग्राही ने बैंक में जाकर खाते से पैसे कटने के बारे में जानकारी ली गई तो बैंक प्रबंधक ने बताया कि आपके खाते से लोन के पैसे कट गए हैं। जब दीपक ने कहा कि मैंने बैंक का पूरा ऋण फाइनल कर दिया तो फिर किस बात के पैसे काटे गए हैं तो बैंक प्रबंधक ने कहा कि हम ऋण फाइनल होने की जानकारी ऊपर नहीं भेज सके इसलिए कट गए। पीड़ित ने दीपक ने जब इस मामले की शिकायत बैंक हेल्पलाइन पर की तब बैंक प्रबंधक ने पैसे वापस करने की बात कही। दीपक ने लापरवाही पर कार्रवाई की मांग की है।