• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sheopur
  • तैयार सीमेंट ईंट से 1.5 बाल्टी पानी में बनेगा शौचालय
--Advertisement--

तैयार सीमेंट ईंट से 1.5 बाल्टी पानी में बनेगा शौचालय

जिले में रेत की कमी और सूखे की वजह से 50 हजार शौचालय निर्माण का लक्ष्य पिछड़ रहा था। लेकिन रेडिमेड सीमेंट ब्लॉक्स(ईंट)...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:30 AM IST
जिले में रेत की कमी और सूखे की वजह से 50 हजार शौचालय निर्माण का लक्ष्य पिछड़ रहा था। लेकिन रेडिमेड सीमेंट ब्लॉक्स(ईंट) से अब शौचालय निर्माण आसान हो गया है। राजस्थान के बारां जिले से इस तरह के ब्लॉक्स मंगाए जा रहे हैं। श्योपुर जनपद के बर्धा बुजुर्ग गांव मेंं शौचालय निर्माण शुरू कराया गया। पहली बार श्योपुर के गांवों में शौचालय निर्माण में इस तरह के ब्लॉक्स का इस्तेमाल कराया जा रहा है। इस ब्लॉक्स की वजह से शौचालय निर्माण की लागत कम हुई है। यानी रेत और सीमेंट से जो शौचालय 12 हजार में बन रहा था, वह रेडीमेड सीमेंट बलाॅक्स से 10 हजार में ही बन रहा है। साथ ही मजदूरों को मेहनत भी ज्यादा नहीं करनी पड़ रही। इन ब्लॉक्स को केमिकल से जोड़ा जाता है। सिर्फ डेढ़ बाल्टी पानी में पूरा शौचालय बनकर तैयार हो जाता है। इस ब्लॉक्स से शौचालय बनाने में रेत की भी जरूरत नहीं पड़ती। ब्लॉक्स के केमिकल को पानी में घोला जाता है।

इसके बाद इस केमिकल घोल से ब्लॉक्स को जोड़ा जाता है। यहां बता दें कि जिले की 225 ग्राम पंचायतों में 90 हजार में से लगभग 46 हजार शौचालय बन चुके हैं। लेकिन सूखे की वजह से पानी के अभाव और रेत की कमी के चलते ग्राम पंचायतों में शौचालय निर्माण का काम रुक गया था। जिला पंचायत सीईओ ने जिले की अन्य पंचायतों में रेडीमेड सीमेंट ब्लॉक्स से शौचालय बनवाने के निर्देश दिए हैं। जिले की 30 से 40 ग्राम पंचायतों में इससे शौचालय निर्माण शुरू करा दिया है। राजस्थान के बारां से ब्लॉक्स मंगवाकर शौचालय का काम शुरू कराया गया था। जिले में अभी तक यह ब्लॉक्स नहीं बनाए जाते हैं। अधिकारियों ने स्थानीय लोगों से संपर्क किया और ब्लॉक्स बनवाने की पहल शुरू कराई है। जिससे परिवहन लागत कम हुई है। स्थानीय स्तर पर ब्लॉक्स आसानी से उपलब्ध होने लगे हैं। मिशन के तहत अभी तक नागदा, नगदी ओडीएफ घोषित कर दिए हैं। साथ ही बगवाज, सेमल्दा हवेली, जैदा समें काम शुरू करा दिया है।

बांरा जिले से ब्लॉक्स मंगाकर कराया काम, पानी की समस्या के चलते 40 पंचायतों में शुरू कराया काम

रेडीमेड सीमेंट ब्लॉक्स से बना शौचालय।

सीमेंट ब्लॉक्स से सस्ते में बन रहे शौचालय