• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sheopur
  • 23 विशेषज्ञों के पद स्वीकृत हैं श्योपुर जिला अस्पताल में 5 पद भरे, 18 अभी भी खाली हैं
--Advertisement--

23 विशेषज्ञों के पद स्वीकृत हैं श्योपुर जिला अस्पताल में 5 पद भरे, 18 अभी भी खाली हैं

श्योपुर | जिले की आबादी 7 लाख से अधिक है। ग्वालियर के संयुक्त संचालक का कहना है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:30 AM IST
श्योपुर | जिले की आबादी 7 लाख से अधिक है। ग्वालियर के संयुक्त संचालक का कहना है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, एक हजार की आबादी पर एक डॉक्टर होना चाहिए यानी जिले में कम से कम 700 डॉक्टर होने चाहिए। जिला अस्पताल सहित अन्य सरकारी अस्पतालों में कुल 44 डॉक्टर पदस्थ हैं। इसके अलावा 7 प्राइवेट डॉक्टर हैं यानी जिले में कुल 51 डॉक्टर ही हैं। ऐसे में बड़ी संख्या मंे श्योपुर के मरीज इलाज के लिएे कोटा, बारां और सवाई माधौपुर जाते हैं।

जिला अस्पताल में सिर्फ 5 विशेषज्ञ 5 विभागों में डॉक्टर ही नहीं

जिला अस्पताल में विशेषज्ञ डॉक्टरों के 22 पद हैं लेकिन सिर्फ 5 ही विशेषज्ञ डॉक्टर हैं। 5 विभाग ऐसे हैं, जिनमें डॉक्टर ही नहीं हैं। शहरी परिवार कल्याण केन्द्र का पद खाली है। डॉक्टराें के रिटायरमेंट के बाद नए डॉक्टरों की भर्ती न होने से मरीजों की परेशानी लगातार बढ़ रही है।कुछ डॉक्टर लंबे समय से बिना सूचना के गायब हैं।

22 चिकित्सा अधिकारी पदस्थ हैं जिला अस्पताल में, जबकि पद सिर्फ 16 हैं। यहां 6 डॉक्टर स्वीकृत से ज्यादा हैं।

5 विभागों शिशु, निश्चेतना, सर्जिकल, अस्थि व नेत्र रोग में एक भी विशेषज्ञ नहीं।