Hindi News »Madhya Pradesh »Sheopur» ट्रांसफार्मर खराब, दूसरे दिन भी बंद रही 500 घरों की बिजली सप्लाई, पानी के लिए परेशान हुए लोग

ट्रांसफार्मर खराब, दूसरे दिन भी बंद रही 500 घरों की बिजली सप्लाई, पानी के लिए परेशान हुए लोग

भास्कर संवाददाता | रघुनाथपुर कस्बे के पुलिस थाना परिसर में लगा बिजली कंपनी ट्रांसफार्मर खराब होने के कारण...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 04:00 AM IST

भास्कर संवाददाता | रघुनाथपुर

कस्बे के पुलिस थाना परिसर में लगा बिजली कंपनी ट्रांसफार्मर खराब होने के कारण बुधवार सुबह 10 बजे से ठप हुई बिजली सप्लाई गुरुवार को भी बहाल नहीं हो सकी। लगभग 500 घरों में बिजली नहीं आने से पानी की सप्लाई भी नहीं हो सकी।

बिजली कंपनी द्वारा भेजा गया ट्रांसफार्मर फेल होने के बाद श्योपुर से दूसरा ट्रांसफार्मर मंगाने की बात अफसरों ने कही है। हालांकि शाम तक ट्रांसफार्मर नहीं बदला जा सका। वहीं बुढ़ेरा क्षेत्र में बिजली लाइन बिछाने का काम बेहद धीमी गति से होने पर ग्रामीणों में रोष व्याप्त है।

बिजली कंपनी के एई ने गुरुवार सुबह तक बिजली सप्लाई बहाल होने की उम्मीद जताई थी, लेकिन मौके पर आया नया ट्रांसफार्मर लगाते ही फेल हो गया। इसके बाद श्योपुर से दूसरा ट्रांसफार्मर मंगाने की व्यवस्था की गई। लेकिन शाम तक ट्रांसफार्मर कस्बे में नहीं पहुंचा था। उधर ग्राम बुढेरा, सलमान्या में बिजली लाइन बिछाने का काम लेटलतीफी की भेंट चढऩे से ग्रामीणों में रोष है। स्थानीय निवासी रघुराज सिंह ने बताया कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत बिजली विहीन गांवों मेंं कंपनी द्वारा खंभे गाढऩे और लाइन खींचने का काम बेहद धीमी गति से किया जा रहा है। ठेेकेदार द्वारा मौके पर गड्ढे खुदवाए जा चुके हैं। लेकिन पोल लगाने का काम शुरू होने का ग्रामीणों को एक माह से इंतजार है।

ग्राम भानपुरा, पातालगढ़, बुढ़ेरा, सुभाषपुरा, अजनोई, बागचा, भीलों का टपरा, जाखदा आदिवासी बस्ती मेंं बिजलीकरण कार्य को स्वीकृत हुए तीन साल से अधिक समय बीत गया है। काम बेहद धीमी गति से होने के कारण इन गांव में बिजली का उजाला देखने के लिए ग्रामवासी तरस रहे हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sheopur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×