Hindi News »Madhya Pradesh »Sheopur» एमपीपीएसी के लिए युवाओं को फ्री करा रहे तैयारी

एमपीपीएसी के लिए युवाओं को फ्री करा रहे तैयारी

18 फरवरी को होने वाली एमपीपीएससी परीक्षा की युवाओं ने तैयारी शुरू कर दी है। वे सुबह खटीक समाज के सामुदायिक भवन में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 04:00 AM IST

18 फरवरी को होने वाली एमपीपीएससी परीक्षा की युवाओं ने तैयारी शुरू कर दी है। वे सुबह खटीक समाज के सामुदायिक भवन में पहुंच रहे हैं और विशेषज्ञों की टिप्स का लाभ भी ले रहे हैं। सुबह नौ बजे से दस बजे तक चलने वाली नि:शुल्क कोचिंग में गुरुवार को विशेषज्ञ विकास सोनी ने वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के बारे में समझाइश दी। कोचिंग संचालक परीक्षित भारती ने बताया कि गुरुवार से शुरू हुई टेस्ट की यह श्रंखला नियमित रूप से 17 फरवरी तक चलेगी। नियमित टेस्ट में हर रोज एक विशेषज्ञ द्वारा अपनी विशेषज्ञता के अनुभवों को शेयर करेगा।

पहले दिन 100 वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के उत्तर सुबह 10 बजे से 11 बजे के बीच परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं को बताया गया। सहायक समन्वयक खेमराज आर्य ने बताया कि नियमित टेस्ट की शृंखला एमपीपीएससी की परीक्षा को दृष्टिगत रखते हुए सामान्य अध्ययन को हमने सबसे पहले अपने हाथ में लिया है। शुक्रवार को सामान्य अध्ययन, 3 फरवरी को इतिहास, 4 फरवरी को संपूर्ण विषय, 5 फरवरी को अर्थशास्त्र, 6 फरवरी को सामान्य अध्ययन, 7 फरवरी को मध्यप्रदेश सामान्य अध्ययन, 8 फरवरी को सामान्य अध्ययन, 9 फरवरी को भूगोल, 10 फरवरी को सामान्य अध्ययन, 11 फरवरी से लेकर 17 फरवरी तक नियमित रूप से टेस्ट के जरिए कोचिंग पहुंच रहे युवाओं की तैयारियों का जायजा लिया जाता रहेगा। साथ ही किस जगह व्यक्ति को परेशानी आ रही है, इस बारे में भी पूछताछ हो सकेगी। पॉलीटेक्निक कॉलेज के प्रोफेसर बृजेश कुमार जी भी छात्रों को अपना मार्गदर्शन देंगे।

पहल

18 फरवरी को होने वाली एमपीपीएससी परीक्षा को लेकर शहर में खटीक समाज के सामुदायिक भवन में शिक्षक करा रहे तैयारी

कोचिंग से छात्रों को मिलेगा लाभ

दो सेंटरों पर होगी परीक्षा

मालूम हो कि जिला मुख्यालय पर पीजी कॉलेज श्योपुर और एक्सीलेंस स्कूल श्योपुर में यह परीक्षा कराई जाएगी। दोनों सेंटर पर 350-350 छात्र परीक्षा देंगे। लीड कॉलेज के प्राचार्य एसडी राठौर का कहना है कि प्रशासनिक स्तर पर परीक्षा की तैयारी कराई जाती रही है। इसी सप्ताह में परीक्षा को लेकर तैयारियों को जांचा जाएगा और जहां खामी मिलेगी, उसे पूरा भी किया जाएगा।

कोचिंग संचालक भारती कहते हैं कि चूंकि सरकार की बिना मदद के संचालित हो रही नि:शुल्क कोचिंग उन लोगों के लिए सराहा बनी हुई है जो लोग कोटा या ग्वालियर जाकर बड़ी-बड़ी पैसे वाली कोचिंग को अटेंड करने की जेहमत नहीं उठाएंगे और उन्हें अपने शहर में हम लोग यह सुविधा मुहैया करा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इन दिनों एक सैकड़ा से अधिक छात्र हमारी कोचिंग का लाभ ले रहे हैं। कोचिंग में छात्राएं भी पूरी सहभागिता दिखा रही हैं। सहायक संचालक खेमराज आर्य कहते हैं कि 18 फरवरी को प्रारंभिक परीक्षा में उम्मीद है कि हमारी कोचिंग से काफी संख्या में छात्र बाजी मारेंगे।

फ्री कोचिंग से छात्र भी हैं उत्साहित

नि:शुल्क कोचिंग में एमपीपीएससी की तैयारी कर रहे छात्र भी काफी उत्साहित दिख रहे हैं। राजेश प्रजापति, नेहा मंगल, नम्रता सिंघल, श्यामा मीणा, पंकज अर्गल, रिंकी प्रजापति कहती हैं कि कोचिंग से हमें काफी लाभ मिल रहा है। हमारी सभी समस्याओं को विशेषज्ञों द्वारा हल कराया जा रहा है । उनका मानना है कि छात्रों को जो टिप्स पेशेवर कोचिंग पर मिल रहे होंगे, वे सभी यहां निशुल्क कोचिंग पर हमें उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sheopur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×