--Advertisement--

उधारी से बचने लूट की कहानी रची, 4 गिरफ्तार

देहात थाना क्षेत्र के सोंईकलां का मामला भास्कर संवाददाता | श्योपुर देहात थाना क्षेत्र के सोंईकलां गांव के...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 05:30 AM IST
देहात थाना क्षेत्र के सोंईकलां का मामला

भास्कर संवाददाता | श्योपुर

देहात थाना क्षेत्र के सोंईकलां गांव के पास देर रात लूट की सूचना पुलिस को दी गई, जिसकी जांच में जुटी पुलिस ने महज 24 घंटे में घटना का पटाक्षेप कर दिया। जांच में सामने आया कि, फरियादी बनकर पुलिस के पास पहुंचे युवक ने उधारी से बचने के लिए लूट की झूठी कहानी रची।

देहात थाना प्रभारी सतीश दुबे ने बताया कि, देर रात 11.30 बजे नागदा गांव निवासी हेमराज (30) पुत्र सियाराम मीणा पहुंचा। जिसने बताया कि, वह रात में टोंगनी गांव जा रहा था जहां सोंईकलां गांव के स्कूल के पास पीछे से आए बाइक पर सवार लोगों ने उस पर डंडों से हमला कर दिया और जेब में रखे 72 हजार रुपए लूट लिए। पुलिस ने फरियादी की रिपोर्ट पर से तत्काल जांच शुरू की, जिसमें फरियादी ने बताया कि बाइक पर पीछे बॉस लिखा हुआ है। वह बाइक श्योपुर में पुलिस को मिली, जो कि मान सिंह जादौन की थी। पुलिस के हत्थे चढ़े मान सिंह ने पुलिस को बताया कि, हेमराज ने उसके व शंकर माली, बनवारी मीणा व भूरा मीणा के साथ बैठकर शराब पी थी। इस दौरान उनका आपस में झगड़ा हो गया, जिसमें वह 16 हजार रुपए मौके पर फेंककर भाग गया और पुलिस को झूठी कहानी बता दी। इस पर पुलिस ने फरियादी सहित पांचों को गिरफ्तार कर लिया। जबकि हेमराज मीणा पर पुलिस ने झूठी सूचना देने के साथ गुमराह करने पर केस दर्ज किया गया।