• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sheopur
  • टेंडर होने के बाद भी शुरू नहीं हो सका बायपास का निर्माण, जर्जर मार्ग से लोग हो रहे परेशान
--Advertisement--

टेंडर होने के बाद भी शुरू नहीं हो सका बायपास का निर्माण, जर्जर मार्ग से लोग हो रहे परेशान

पाली रोड से शिवपुरी रोड को जोड़ने वाले बायपास का निर्माण अधर में लटका हुआ है। अलबत्ता रोड पर गहरे गड्‌ढे होने एवं...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 05:30 AM IST
पाली रोड से शिवपुरी रोड को जोड़ने वाले बायपास का निर्माण अधर में लटका हुआ है। अलबत्ता रोड पर गहरे गड्‌ढे होने एवं नाली तैयार नहीं होने से अब तो मवेशी भी गिरने लगे हैं। बायपास के जर्जर हालतों को लेकर नगर पालिका कोई रूचि नहीं ले रही है। जबकि शहर के बायपास के निर्माण के लिए नगर पालिका 2 महीने पहले टेंडर कर चुकी है। जिसमें बायपास का निर्माण 2.70 करोड़ रुपए की लागत से होना है।

पीजी कॉलेज श्योपुर के समीप से बायपास रोड शिवपुरी रोड स्थित जिला अस्पताल तक निकला हुआ है। करीब दो किलोमीटर लंबे इस बायपास का निर्माण पिछले एक साल से खिंचता चला आ रहा है। अब हालात यह हो गए हैं कि रोड पर लंबे और गहरे गड्‌ढे भी हो गए। इसके कारण स्थानीय लोगों को खासी परेशानी हो रही है। इनका दर्द है कि वे आखिर में कितने बार शिकायत करें । क्योंकि सांसद अनूप मिश्रा, विधायक दुर्गालाल विजय, कलेक्टर पीएल सोलंकी सभी को वे अपनी शिकायत दर्ज करा चुके हैं। इसके बाद भी रोड निर्माण का रास्ता प्रशस्त नहीं हुआ। समाजसेवी सुजीत गर्ग, पारितोष सिंह राठौड़ कहते हैं कि हम लोग अपने स्तर पर विरोध प्रदर्शन करके भी देख चुके हैं लेकिन सकारात्मक परिणाम कुछ नहीं मिला। जर्जर बायपासस के कारण भारी वाहन भी शहर से गुजर रहे है, जिन्हें यातायात पुलिसकर्मी भी नहीं रोक रहे है। वहीं बायपास के जर्जर होने के चलते भारी वाहन ट्रक, लोडिंग पिकअप, ट्रैक्टर-ट्रॉली व वाहन भी शहर के बीच से ही गुजर रहे है। जिन्हें रोकने के लिए यातायात पुलिसकर्मी भी आगे नहीं आ रहे है। बायपास के जर्जर होने के कारण पुलिसकर्मी भारी वाहनों की एंट्री पर रोक नहीं लगा पा रहे है। बीते दो महीने से नगर पालिका ने टेंडर के बाद भी इस पर काम शुरू नहीं किया है। जिसके चलते बायपा आज भी जस की तस स्थिति में पड़ा हुआ है। वाहन सवार कई बार बायपास के गहरे गड्ढों में गिरकर घायल हो रहे है, जबकि वाहनों में लगातार टूटफूट बढ़ती जा रही है। नगर पालिका अध्यक्ष का कहना है कि, वह जल्द ही बायपास का निर्माण शुरू कराएंगे।

पाली रोड से शिवपुरी रोड को जोड़ने वाले बायपास जर्जर हालत में।

रेत की कमी से अटका है बायपास का निर्माण

नगर पालिका के इंजीनियर व नपा अध्यक्ष बायपास निर्माण में आ रही रेत की कमी को अड़चन बता रहे है। नपा प्रशासन के अनुसार जिले में वर्तमान में रेत नहीं आ रही है, क्योंकि राजस्थान सरकार ने रेत पर प्रतिबंध लगाया हुआ है। नतीजा शहर में भी रेत नहीं मिल रही है। वर्तमान में जो रेत मिल रही है वह महंगी है ऐसे में ठेकेदार महंगी रेत के साथ निर्माण को कराने में तैयार नहीं है। क्योंकि इस काम में महंगी रेत के साथ काफी घटा हो जाता है। जिससे बायपास रोड का निर्माण नहीं कराया जा रहा है, लेकिन निर्माण न होने से लोग परेशान बने हुए है।

बायपास का नाला भी नहीं बन रहा

बायपास रोड का निर्माण तो शुरू हो ही नहीं रहा, इसकाे अलावा नाला निर्माण का काम भी शुरू नहीं हो पा रहा है। जिससे घरों का पानी सड़कों पर भर रहा है। स्थिति यह है कि, कई स्थानों पर नालियों का पानी सड़कों के साथ खाली प्लाटों में भर गया है, जिससे मच्छर और गंदगी पसरी हुई है। इसे लेकर भी नगर पालिका कोई तैयारी नहीं कर रही है। जबकि बायपास के लोग कई बार नाला निर्माण की मांग कर चुके है, पर नपा ने आज तक इस पर ध्यान नहीं दिया है। महज खानापूर्ति करते हुए सड़क के दोनों और कच्चा नाला बना दिया है जिसमें पानी का कोई निकास नहीं है। ऐसे में मवेशी उक्त नाले में गिरकर घायल हो रहे है और इसक ढकवा भी कच्चा होने के कारण नहीं हो पा रहा है।

इसलिए महत्वपूर्ण है बायपास

चूंकि इस रोड के दोनों किनारे पर स्कूली छात्रावास बने हुए हैं और यहां मेडिकल सुविधाओं में भी बढ़ोत्तरी हो रही है। इसलिए भी यह रोड बनना जरूरी हो गया है। इसके अलावा शिक्षा नगर भी इसी बायपास रोड पर डेवलप हो रहा है। केन्द्रीय विद्यालय, नवीन गर्ल्स कॉलेज और अटल आश्रय आवास योजना के मकान भी इसी रोड पर निर्मित हो रहे हैं। केन्द्रीय विद्यालय भवन तो यहां अप्रैल माह में शिफ्ट हो जाएगा।