पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वीरपुर में बैंक कारोबार बढ़ा रही है पर सुविधाएं देने पर नहीं है ध्यान

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
तहसील मुख्यालय वीरपुर में संचालित बैंकों में कारोबार तो बढ़ रहा है लेकिन सुविधाएं उपलब्ध कराने मेें प्रबंधन पीछे है। यहां सभी चार बैंक शाखाएं महज एक -एक कमरे के भवनों में चल रही है। एक भी बैंक में न पर्याप्त स्टाफ है एन ग्राहकों के लिए जरूरी सुविधा है।

कस्बे में सेंट्रल मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक,यूनियन बैंक आफ इंडिया, वृहत्ताकार सहकारी संस्था तथा सेवा सहकारी संस्था बैंक शाखाएं कार्यरत है। चारों बैंकों की शाखाएं कस्बे के एमएस रोड पर एक -एक कमरे के भवनों में संचालित की जा रही है। इन बैंकों से बीरपुर क्षेत्र के 85 गांवों के लगभग 25 हजार खातेदार है। बैंकोंं का कारोबार तो बढ़ रहा है, लेकिन इस लिहाज से सुविधाएं नहीं दी जा रही है। बैंकों के पास न जरूरत के अनुसार स्टाफ है और न भवन। छोटे-छोटे भवन में ज्यादातर बैंक संचालित हैं।

खबरें और भी हैं...