• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Sheopur
  • पीएम आवास की सूची में नाम नहीं जाेड़ने पर ग्रामीणों ने किया हंगामा
--Advertisement--

पीएम आवास की सूची में नाम नहीं जाेड़ने पर ग्रामीणों ने किया हंगामा

ग्राम स्वराज अभियान के तहत श्योपुर विकासखंड की ग्राम पंचायत जावदेश्वर में सोमवार को आयोजित ग्राम सभा की मीटिंग...

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2018, 04:50 AM IST
पीएम आवास की सूची में नाम नहीं जाेड़ने पर ग्रामीणों ने किया हंगामा
ग्राम स्वराज अभियान के तहत श्योपुर विकासखंड की ग्राम पंचायत जावदेश्वर में सोमवार को आयोजित ग्राम सभा की मीटिंग हंगामे की भेंट चढ़ गई। पंचायत क्षेत्र में रह रहे सैकड़ों असंगठित मजदूरों के पंजीयन फार्म नहीं भरे जाने और प्रधानमंत्री आवास की सूची में पात्र हितग्राहियों के नाम नहीं जुड़ने से नाराज सदस्यों ने हंगामा करते हुए जिम्मेदारों पर अमीरों को लाभान्वित करने का आरोप लगाया। हंगामा बढ़ते देख महज 45 मिनट में सरपंच और सचिव ही बैठक छोड़कर चले गए। उधर मानपुर में आयोजित ग्राम सभा में बैंकिंग सुविधाओं के अभाव का मुद्दा प्रमुखता से उठाते हुए लोगों ने आमराय से कस्बे में मप्र सेंट्रल ग्रामीण बैंक शाखा खोलने का प्रस्ताव पारित किया है।

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार के निर्देश पर 14 अप्रैल से ग्राम स्वराज अभियान के तहत सभी ग्राम पंचायतों में ग्रामसभाएं आयोजित की जा रही है। श्योपुर विकासखंड की ग्राम पंचायत जावदेश्वर में तीन दिन से निरंतर अलग अलग गांव में बैठकें हो रही है। पंचायत ने ग्राम जावदेश्वर और टेकना के बाद सोमवार को ग्राम चौपना में ग्रामसभा का आयोजन रखा। सरपंच रामजीलाल मीणा की अध्यक्षता में शुरू हुई इस बैठक में सचिव रफीक खान ने प्रधानमंत्री आवास योजना में चयनित हितग्राहियों की सूची अनुमोदन के लिए ग्रामसभा सदस्यों के बीच रखी।

आवास योजना की सूची में कई पात्र हितग्राहियों के नाम गायब देख उपस्थित ग्रामसभा सदस्यों का पारा चढ़ गया। आवास सूची में नाम नहीं जोड़ने पर स्थानीय निवासी रामदयाल शर्मा ने हंगामा शुरू कर दिया। बैठक में रामदयाल ने कहा कि पंचायत के जिम्मेदारों ने आवास मंजूर करने के नाम पर मनमानी वसूली की है। जिन गरीबों ने आवास के एवज में मांगे गए पैसे नहीं दिए हैं उनके नाम सूची से हटा दिए गए हैं। बैठक के दौरान असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के पंजीयन के लिए ग्राम पंचायत कार्यालय में फार्म उपलब्ध नहीं कराने की बात पर श्रमिकों ने रोष जताया। हंगामा बढ़ते देख सरपंच रामजीलाल मीणा एवं सचिव रफीक खान बैठक छोडकर निकल गए।

मानपुर क्षेत्र के ग्राम जावदेश्वर में ग्राम सभा की बैठक में हंगामा करते लोग।

हितग्राही ने लगाया 20 हजार रुपए मांगने का आरोप

ग्रामसभा की बैठक के दौरान जावदेश्वर निवासी रामदयाल शर्मा ने आरोप लगाए कि प्रधानमंत्री आवास मंजूर करने के बदले सरपंच ने उससे 20 हजार रुपए मांगे थे। इतने पैसे देने की मेरी हैसियत नहीं है। पैसे नहीं मिलने की वजह से पंचायत द्वारा आवास के लिए चयनित हितग्राहियों की सूची में उनका नाम जानबूझकर शामिल नहीं किया गया है। इस दौरान रामदयाल के साथ कई वंचित ग्रामीणों ने प्रधानमंत्री अावास योजना मेंं धांधली का आरोप लगाते हुए बैठक में अपना गुस्सा जाहिर किया। इस संबंध में जावदेश्वर ग्राम पंचायत के सरपंच रामजीलाल मीणा का कहना है कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत निर्धारित गाइड लाइन के मुताबिक पात्रता में आने वाले बेघर परिवारों के आवास मंजूर किए गए हैं। आवास के बदले जिस व्यक्ति ने पैसे मांगने के आरोप मुझ पर लगाए हैं वह निराधार और राजनीतिक रंजिश से प्रेरित हैं। ग्राम सभा की बैठक के दौरान कुछ लोगों ने बेवजह हंगामा किया।

मानपुर में सेंट्रल ग्रामीण बैंक खोलने का प्रस्ताव पारित

मानपुर कस्बे में सरपंच रामदुलारी त्यागी की अध्यक्षता में हुई ग्रामसभा की बैठक के दौरान बैंकिंग सुविधाओं की कमी का मुद्दा प्रमुखता से छाया रहा। उपस्थित लोगों ने कहा कि गैस सब्सिडी से लेकर मजदूर व सरकारी योजनाओं में हितग्राहियों को राशि सीधे बैंक खाते में ट्रांसफार्मर करने की व्यवस्था है, लेकिन राजस्व वृत्त मुख्यालय होने के बावजूद मानपुर में ग्रामीण बैंक शाखा तक संचालित नहीं है। कस्बे सहित पंचायत क्षेत्र के 6 गांव में बसी 5100 अाबादी काे बैंकिंग कार्य के लिए 26 किमी दूर ग्राम सोईंकलां और 32 किमी दूर श्योपुर जाना जाना पड़ता है। उपस्थित ग्रामीणों ने सर्वसम्मति से मानपुर में मप्र सेंट्रल ग्रामीण बैंक शाखा खोलने के प्रस्ताव का ठहराव किया है। सरपंच प्रतिनिधि अशोक त्यागी ने बताया कि पंचायत की अोर से बैंक शाखा खोलने के संबंध में मांग पत्र जिला प्रशासन को भेज दिया है।

X
पीएम आवास की सूची में नाम नहीं जाेड़ने पर ग्रामीणों ने किया हंगामा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..