--Advertisement--

चोरी की बिजली से सिंचाई करने पर किसान को 3 माह की जेल

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 06:30 AM IST
चोरी की बिजली से सिंचाई करने पर किसान को 3 माह की जेल


भास्कर संवाददाता | श्योपुर

जिला कोर्ट की विशेष अदालत ने बिजली चोरी के प्रकरण में फैसला सुनाया। जिसमें आरोपी किसान को 3 माह की जेल की सजा सुनाई गई। जबकि उसके खिलाफ 35 हजार रुपए का अर्थदंड किया गया। अर्थदंड की राशि अदा नहीं करने पर 3 माह का अतिरिक्त कारावास भी किया गया। मामले में बिजली कंपनी की ओर से एडवोकेट रामबाबू शुक्ला ने पैरवी की।

एडवोकेट रामबाबू शुक्ला ने बताया कि आसीदा निवासी किसान हरीशंकर पुत्र रामकुमार मीणा को 20 अक्टूबर 2010 को बिजलेंस की टीम ने निरीक्षण के दौरान बिजली चोरी करते हुए पकड़ा। जिसमें वह खेत पर लगी बोर से 8 एचपी की मोटर चलाकर चोरी की बिजली से फसल की सिंचाई कर रहा था। इस पर टीम ने मौके पर पंचनामा बनाते हुए उसके खिलाफ कार्रवाई की। लेकिन कार्रवाई के बाद भी किसान ने समायोजन नहीं किया, जिसके बाद प्रकरण 10 नवंबर 2011 को विशेष अदालत में पेश किया गया। यहां विशेष अदालत में आरोपी पेश हुआ और उसके कथन सुनने के साथ बिजली कंपनी का पक्ष भी सुना गया। दोनों पक्षों के सुनने के बाद विशेष न्यायाधीश एसएन चंद्रावत ने मामले में फैसला सुनाया। जिसमें आरोपी हरीशंकर मीणा को कोर्ट ने बिजली चोरी का दोषी माना और उस पर 35 हजार रुपए का जुर्माना किया। जबकि 3 माह की जेल की सजा सुनाई। इस मामले में दोषी सिद्ध हुए किसान ने जुर्माने की राशि जमा नहीं कराई तो उसे 3 माह का अतिरिक्त कारावास भी किया गया। जहां उसे कोर्ट से ही जेल भेज दिया गया।

X
चोरी की बिजली से सिंचाई करने पर किसान को 3 माह की जेल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..