पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Sheour News Mp News Ceo Asked For 48 Thousand Gifts Of 400 Jade39s Wedding In Kanyadan Ceo Said All Ineligible

मुख्यमंत्री कन्यादान में 400 जाेड़ों की शादी कराई उपहार के 48 हजार मांगे ताे सीईओ बोले- सब अपात्र

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कुछ शादीशुदा जोड़ों की शिकायत पर जिपं सीईओ ने दिए थे जांच के आदेश

जून 2019 में विजयपुर जनपद पंचायत द्वारा मुख्यमंत्री कन्यादान याेजना के तहत विवाह सम्मेलनों में 400 जोड़ों का विवाह कराया गया था। इन जाेड़ाें काे 48-48 हजार रुपए की सहायता राशि अब तक नहीं मिल पाई है।

इतना ही नहीं सम्मेलन कराने के बाद अब जनपद के अफसरों का तर्क है कि इन जोड़ों के आवेदन ही स्वीकृत नहीं किए गए इसलिए इन्हें कन्यादान की नगद प्रोत्साहन राशि नहीं मिल पाएगी। मालूम हाे कि श्योपुर और कराहल के जोड़ों को तो तत्काल आवंटन विवाह सम्मेलन के बाद कर दिया गया था लेकिन विजयपुर काे नहीं। जनपद पंचायत विजयपुर के सीईओ अरविंद सिंह का कहना है कि उक्त जोड़ों के आवेदन ही स्वीकृत नहीं किए गए, ऐसे में राशि देने का सवाल ही नहीं है। जबकि सम्मेलन का संपूर्ण खर्च जनपद पंचायत की ओर से किया गया, जिसमें बर्तन भी जोड़ों को बांटे गए और अब जनपद मामले में पल्ला झाड़ रही है।

जिपं सीईओ की ओर से भेजे गए रिमाइंडर, पर कोई जवाब नहीं

मामले में जांच नहीं आने के बाद जिला पंचायत सीईओ ने लगातार रिमाइंडर भेजे। लेकिन इन पर कोई जवाब नहीं दिया गया। हाल ही फरवरी में भी पत्र भेजा गया। इस पर भी जनपद की ओर से न तो जांच के बारे में बताया और न ही सम्मेलन के आवेदनों की स्वीकृति के संबंध में। ऐसे में यह पूरा मामला लंबित हो गया और 400 जोड़ों को सरकार राशि का कोई फायदा नहीं मिल सका है।

जिपं सदस्य ने कहा- नहीं मिली राशि तो करेंगे आंदोलन

जिला पंचायत सदस्य ममता रामनिवास मौर्य ने तीन दिन पहले वीरपुर तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा। जिसमें उन्होंने अन्य मांगों के साथ वीरपुर सहित अन्य जगह हुए सामूहिक विवाह सम्मेलनों में सरकारी राशि जोड़ों को वितरित करने की मांग की। इसके अलावा मांग पूरी न होने पर 15 मार्च से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठने की चेतावनी दी है।

जिला पंचायत सदस्य ने भी ज्ञापन देकर कहा- राशि नहीं मिली तो करेंगे अनिश्चितकालीन हड़ताल, पूर्व में शिकायत के फेर में रोकी गई राशि, पर न जांच हुई और सूची भेजी

सीखेड़ा गांव निवासी संजा पुत्री मांगीलाल जाटव का विवाह भी 6 जून 2019 को वीरपुर में विजयपुर जनपद द्वारा आयोजित कराए गए सम्मेलन में हुआ। यहां उसे उपहार के रूप में कुछ ही बर्तन दिए गए, लेकिन अब तक राशि नहीं दी गई। इसके लिए पंचायत सचिव को कई बार कहा गया, पर हर बार टाल दिया गया।


सीसखेड़ा की संजा और मोहनपुरा की मंजेश बोलीं- सम्मेलन से किया विवाह, नहीं दी राशि


वीरपुर में हुए मुख्यमंत्री कन्यादान सामूहिक विवाह सम्मेलन में मौजूद जिपं सदस्य ममता मौर्य व अन्य जपं कर्मचारी।
खबरें और भी हैं...