पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बच्चों को अधिकारों की जानकारी होना जरूरी: तिवारी

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

शा.प्रा. विद्यालय में बाल अधिकार संरक्षण पर कार्यक्रम हुआ

समीपस्थ ग्राम किशोरपुरा में शनिवार को शासकीय प्राथमिक विद्यालय में बाल अधिकार संरक्षण कार्यक्रम रखा गया। जिसमें बालमित्र हनुमान तिवारी ने बच्चों को यौन शोषण के प्रति सचेत किया। श्री तिवारी ने कहा कि बच्चों को उनके अधिकार की जानकारी होना बहुत जरूरी है। बच्चों को गुड टच और बेड टच में भेद करना तभी आएगा जब उन्हें बच्चों के लिए बने प्रावधानों की जानकारी रहेगी। बाल श्रम, बाल भिक्षावृत्ति, बच्चों में नशे की आदत और बाल तस्करी, बाल विवाह और शोषण से बचाव के लिए किशोर न्याय अधिनियम 2015, लैंगिक अपराधों से बालकों के संरक्षण के बारे में भी जानकारी दी।

अधिनियम 2012,बाल अधिकार जिले में स्थापित बाल संरक्षण इकाई, बाल कल्याण समिति और किशोर न्याय बोर्ड की कार्य प्रणाली के बारे में भी जानकारी दी। बच्चों को इस दौरान चाइल्ड लाइन की निःशुल्क सेवाओं और इसके उपयोग के बारे में भी बताया गया।

बच्चाें काे जानकारी देते बाल अधिकार संरक्षण अायाेग मित्र।
खबरें और भी हैं...