अस्पताल के पीछे फेंके जा रहे कचरे में रोज आग लगने से पेड़ों को हो रहा नुकसान

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 08:16 AM IST

Sheopur News - पर्यावरण को स्वच्छ बनाने के लिए एक ओर सरकारों से लेकर एनजीटी और एनजीओ द्वारा पेड़ लगाने का अभियान चलाया जा रहा है।...

Karhal News - mp news damage to trees due to daily fire in garbage being thrown behind hospital
पर्यावरण को स्वच्छ बनाने के लिए एक ओर सरकारों से लेकर एनजीटी और एनजीओ द्वारा पेड़ लगाने का अभियान चलाया जा रहा है। दूसरी ओर कराहल का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर्यावरण को लेकर कतई सचेत नहीं हैं। अस्पताल प्रबंधन द्वारा अस्पताल के पीछे खुले में कचरा फेंक कर आग लगाई जा रही है। आग लगने की वजह से अस्पताल के पीछे लगे पेड़ों में भी आग लग रही है। जिस वजह से स्थानीय रहवासियों के साथ-साथ पर्यावरण पर भी इसका असर हो रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है कि आग लगने की शिकायत कई बार अस्पताल प्रबंधन से कर चुके हैं साथ ही आग न लगाने की बात भी कह चुके हैं। बावजूद इसके यहां लगातार कचरे को जलाया जा रहा है। वहीं इस मामले में पूछे जाने के लिए लगातार फोन करने पर फोन तो उठाया लेकिन कोई जवाब न देते हुए फोन कट कर दिया।

कराहल में बने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के पीछे पिछले तीन साल से लगातार कचरे को फेंक कर उसमें आग लगाई जा रही है। स्थानीय लोगों का कहना है कि हर बार शिकायत करने के बाद अस्पताल प्रबंधन से न तो कोई संतुष्टिजनक जवाब मिलता है और न ही आग लगाने पर कोई रोक लगाई जाती है। स्थानीय लोगों ने बताया कि गुरुवार को भी कचरे में आग लगा दी गई लेकिन इसे बुझाने के कोई इंतजाम नहीं किए गए। जिस वजह से नीम के हरे-भरे पेड़ में आग लग गई। जिस वजह से आधा पेड़ जल गया और गिरने की स्थिति में आ गया। लोगों का कहना है कि पेड़ इतना जल चुका है कि कुछ दिनों में नीचे आकर गिरेगा जिस वजह से लोगों को हादसे का डर सता रहा है। लोगों ने इसकी शिकायत एक बार फिर अस्पताल प्रबंधन से की है। लेकिन अस्पताल प्रबंधन कोई ध्यान नहीं दे रहा है।

वहीं ग्रामीणों ने बताया कि इस कचरे को हटाने को लेकर कई बार बीएमओ से शिकायत की गई है। लेकिन कचरे को हटाया नहीं गया। कचरे में यहां जैसे ही आग लगा दी जाती है तो इससे दूषित धुंआ उठता है। कचरे में आग लगने की वजह से आंखों में जलन हो रही है। लोगों को सांस लेने में दिक्कत हो रही है। ऐसे में दमा टीबी जैसी बीमारी से जूझ रहे मरीजों को ज्यादा परेशानियां झेलनी पड़ रही है। वहीं इस कचरे से बीमारियों के फैलने का खतरा भी बना ही रहता है। लेकिन सफाई कभी नहीं होती है।

वहीं जिम्मेदार मौन बैठे हुए हैं। जबकि आवासीय क्षेत्र में आग लगाने पर पूर्णत: प्रतिबंध होता है। इसके बाद भी लगातार आग लगाने की वजह से किसी बड़े हादसे की आशंका ग्रामीणों ने जाहिर की है।

पेड़ में आग लगने से आधे से ज्यादा जल गया पेड़।

नीम और सिरोल के लगे हैं पेड़

स्थानीय लोगों ने बताया कि अस्पताल के पीछे करीब एक दर्जन सिरोल और नीम के पेड़ लगे हुए हैं। इन्हें करीब 30 साल पहले ग्रामीणों द्वारा लगाया गया था। लेकिन आग लगने की वजह से इन पेड़ों के अस्तित्व पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं।

सीधा हमारे घर पर गिरेगा पेड़


दो बार फोन उठाकर काट दिया

मामले में कराहल के बीएमओ बीएस रावत से चर्च करने के लिए उन्हें दो बार उनके मोबाइल नंबर 8871775740 पर दो बार कॉल किया गया। लेकिन उन्होंने दोनों बार फोन उठाकर काट दिया।

आग न लगाने के निर्देश दिए जाएंगे


X
Karhal News - mp news damage to trees due to daily fire in garbage being thrown behind hospital
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543