विज्ञापन

नया डैम बना नहीं, पुराने स्टापडैम की फूटी पार से बह रहा पारम नदी से आया पानी

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 04:46 AM IST

Sheopur News - बरीदा के पास पारम नदी पर क्षतिग्रस्त स्टापडैम की पार से चंबल नदी में जा रहा पानी। काम नहीं आए नहर से नदी भरने के...

Sheour News - mp news do not make a new dam water from the transmitter of param river flowing across the footstep of old stapdam
  • comment
बरीदा के पास पारम नदी पर क्षतिग्रस्त स्टापडैम की पार से चंबल नदी में जा रहा पानी।

काम नहीं आए नहर से नदी भरने के प्रयास

ढोढर और बलावनी के बीच चंबल नहर के एक बरहे का पानी पारम नदी में छोड़ा जा रहा है। यह पानी बरीदा के पास क्षतिग्रस्त स्टापडैम से बह जाता है। हालांकि ढोढर में पंचायत ने बोरी बंधा बनाकर पानी रोका है। लेकिन यहां से निकलने वाला पानी नहीं ठहरता है। यह पानी बरीदा के फूटे डैम से चंबल नदी की ओर बह जाता है। इसलिए पारम नदी को भरने के प्रयासों पर पानी फिरता जा रहा है। स्थानीय निवासी लक्ष्मीनारायण प्रजापति, बबलू माली,रामकिशन गुर्जर, रामअवतार माली का कहना है कि नदी पार इलाके में 4000 लोगों के साथ ही लगभग 20 हजार दुधारू पशुओं के लिए पानी की किल्लत के आसार अभी से बन गए हैं।

खरीदारी करने के लिए रोजाना नदी में उतरते हैं

बारीदा के पास पारम नदी के क्षतिग्रस्त स्टापडैम की सुध नहीं लेने के कारण रोजाना सैकड़ों लोग परेशान होते हैं। बड़ा हासलपुर, चांदीपुरा, आमली सहराना, धनायचा सहित नदी पार इलाके में बसे ग्रामीणों को दैनिक जरूरत की सामग्री खरीदने घर से ढोढर बाजार आने जाने के लिए रास्ते में नदी पार करनी पड़ती है। यहां निकलते समय एक एक कदम संभलकर रखना पड़ता है। जरा सी चूक होने पर फिसलकर लोग चोटिल हो जाते हैं। बारिश के सीजन में कई बार लोगों की जिंदगी तक खतरे में पड़ जाती है। लेकिन अन्य कोई रास्ता नहीं होने से रोजाना सफर के लिए ग्रामीण अपनी जिंदगी दांव पर लगाते हैं।

X
Sheour News - mp news do not make a new dam water from the transmitter of param river flowing across the footstep of old stapdam
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन