• Hindi News
  • Mp
  • Sheopur
  • Sheour News mp news in many schools of the city 4 to 5 teachers are not going to teach more in 69 schools in the village

शहर के कई स्कूलों में 4 से 5 शिक्षक ज्यादा गांव के 69 स्कूलों में पढ़ाने वाला ही नहीं

Sheopur News - जिले के 69 प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में ऑनलाइन हुए तबादलों के बाद एक भी शिक्षक नहीं रह गया है। इसके बाद भी शहर के...

Jan 19, 2020, 09:21 AM IST
जिले के 69 प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में ऑनलाइन हुए तबादलों के बाद एक भी शिक्षक नहीं रह गया है। इसके बाद भी शहर के स्कूलों में पदस्थ 50 से ज्यादा अतिशेष शिक्षकों को ऐसे शिक्षकविहीन स्कूलों में भेजने के लिए युक्तियुक्तकरण की प्रक्रिया पूरी नहीं की गई। ऐसे में स्थिति यह है कि गांव में 120 बच्चों पर सिर्फ एक ही शिक्षक तैनात है जबकि शहर में 15 बच्चों पर एक शिक्षक है।

सरकारी स्कूलों में छात्र-शिक्षक अनुपात ठीक हो सके, इसलिए शिक्षा विभाग में युक्तियुक्तकरण की ऑनलाइन प्रक्रिया 15 नवंबर को प्रारंभ की थी। इसके बाद भी शहर के ज्यादातर स्कूलों में अब भी 50 शिक्षक ऐसे हैं जो अतिशेष हैं। कई स्कूलों में तीन से चार शिक्षक अतिशेष हैं जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में 42 प्राथमिक और 27 माध्यमिक स्कूल शिक्षक विहीन हैं। 113 प्राथमिक और 43 माध्यमिक स्कूल में सिर्फ एक शिक्षक है। ऐसे में बच्चों की पढ़ाई लगभग ठप हो गई है। मामले में जिला शिक्षा अधिकारी का कहना है कि 23 नवंबर को कलेक्टर साहब बाहर गए थे। मंत्री जी भी प्रवास पर गए थे। इसलिए अनुमोदन नहीं हो पाए। बाद में उन्होंने मंत्री के यहां फाइल अनुमोदन के लिए भेजी लेकिन वह अब तक वापस नहीं लौटी जिससे युक्तियुक्तकरण की प्रक्रिया अधर में लटक गई।

हालात
शिक्षकों के ऑनलाइन ट्रांसफर किए, लेकिन गांव के स्कूलों में शिक्षकों की कमी

इन उदाहरणों से समझिए स्कूल में शिक्षकों की कमी

चकबमूल्या माध्यमिक विद्यालय में एक शिक्षक, उस पर भी बीएलओ का प्रभार: श्योपुर विकासखंड के चकबमूल्या माध्यमिक विद्यालय में शिक्षक के ऑनलाइन तबादले के बाद यहां मिडिल स्कूल के प्रभार की जिम्मेदारी प्राथमिक स्कूल में पदस्थ शिक्षक परीक्षित जाटव के पास आ गई। इसके बाद उन्हें बीएलओ भी बना दिया गया जिससे माध्यमिक विद्यालय पूरी तरह से शिक्षक विहीन हो गया। बाद में प्राथमिक विद्यालय के नवाब सिंह को भी स्कूल का चार्ज दे दिया गया। ऐसे में नवाब सिंह पर ही स्कूल में पढ़ने वाले 80 बच्चों का प्रभार आ गया।

चकबमूल्या स्कूल में 80 विद्यार्थियों को पढ़ाता शिक्षक।

हजारेश्वर स्कूल में 130 बच्चे इन पर शिक्षक: शासकीय हजारेश्वर स्कूल में 130 बच्चों पर 9 शिक्षक पदस्थ हैं। इनमें से पांच अतिशेष शिक्षक हैं। अक्सर कई शिक्षक नदारद रहते हैं। इसके अलावा कन्या मिडिल स्कूल में 120 छात्र-छात्राओं पर 5 अतिशेष शिक्षक हैं। माध्यमिक विद्यालय नंबर 1 में 90 बच्चों पर 3 व माध्यमिक विद्यालय नंबर 2 में 80 बच्चों पर 1 अतिशेष शिक्षक हैं।

भूतकछा स्कूल अतिथि शिक्षकों के भरोसे: भूतकछा प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालय में 77 बच्चे दर्ज हैं। यहां के सभी शिक्षकों का ऑनलाइन तबादला हो गया। इसके बाद यह स्कूल पूरी तरह अतिथि शिक्षकों के भरोसे है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना