• Hindi News
  • National
  • Sheour News Mp News In The Election Of The Winner The 15 Years The Bjp Government Has Made A Lot Of Development Such A Punishment Was Not Expected Tomar

विस चुनाव में हार की कसक... 15 साल भाजपा सरकार ने खूब विकास किया, ऐसी सजा की उम्मीद नहीं थी: तोमर

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
श्योपुर-मुरैना लोकसभा से सांसद और केंद्र सरकार में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर चुनाव जीतने के 36 दिन बाद शनिवार को श्योपुर पहुंचे। यहां उन्होंने गांधी चौक पर आभार सभा की। इस दाैरान उन्हाेंने लाेकसभा चुनाव में जीत के लिए जनता काे धन्यवाद दिया लेकिन विधानसभा चुनाव में मिली हार की कसक उभर अाई। उन्होंने कहा कि वर्ष 2003 के बाद प्रदेश की भाजपा सरकार ने इतना विकास किया था। इस सजा की उम्मीद नहीं थी, खैर यह लोकतंत्र है।

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सुबह 10 बजे सीधे टोड़ी गणेश मंदिर पर पहुंचे। वहां से उन्होंने राममंदिर पहुंचकर दर्शन कर महाराज का आशीर्वाद लिया। दोपहर में दिशा की बैठक ली, फिर भाजपा कोर कमेटी बैठक ली। शाम करीब 7 बजे तोमर ने गांधी चौक पर आभार सभा को संबोधित करते हुए कहा कि 2003 तक मप्र के हालात बहुत बुरे थे, न बिजली थी न पानी। भाजपा सरकार बनी तो विकास के द्वार खुल गए, यहां तक कि लोगों को 24 घंटे बिजली मिली। इतने विकास के बाद विस चुनाव में मिली हार की सजा की उम्मीद नहीं थी। खैर यह लोकतंत्र है और इसमें कुछ भी हो सकता है। अब फिर से कांग्रेस का राज है, बिजली भी गायब और पानी भी, लेकिन हम फिर से यहां विकास कराएंगे और केंद्र से कराएंगे जिसमें ब्रॉडगेज भी मिलेगी और कूनो में गिर के शेर भी। उन्होंने लोकसभा चुनाव को लेकर कहा कि 2009 में 4 विस जीते थे और 4 में मामूली अंतर से पीछे रह गए थे जिसमें कम अंतर वाली विस में श्योपुर भी शामिल था, लेकिन इस बार श्योपुर की जनता ने विकास को चुना है, जिसे हम कराकर रहेंगे।

लोस चुनाव को लेकर कहा- वर्ष 2009 में श्योपुर-विजयपुर से लोस चुनाव में कम अंतर से रह गए थे पीछे, इस बार मंथन और मेहनत से मिला जीत का आशीर्वाद
आभार सभा काे संबाेधित करते केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर।

विधायक सीताराम बोले- रावत कमीशनखोर है...

तोमर की आभार सभा में विजयपुर से भाजपा विधायक सीताराम आदिवासी ने रामनिवास रावत कमीशनखोर बताते हुए कहा कि चेंटीखेड़ा बांध या बायपास रोड, इन्हें हर काम में कमीशन चाहिए। इसलिए तो विजयपुर का विकास नहीं हुआ। उन्होंने मंच से तोमर से उक्त सड़कों व चेंटीखेड़ा बांध सहित बायपास रोड का काम शुरू कराने की मांग की।

भाजपा मीडिया प्रभारियों के बीच मारपीट, पार्टी ने सह-मीडिया प्रभारी को किया निष्कासित

केंद्रीय मंत्री ताेमर जिस समय रेस्ट हाउस में थे, उस समय बाहर खड़े सह-मीडिया प्रभारी रोहित अग्रवाल और मीडिया प्रभारी नरेंद्र वैष्णव के बीच सूचनाएं देने को लेकर विवाद हो गया। इस विवाद में रोहित अग्रवाल ने नरेंद्र वैष्णव काे लात मार दी, जिससे वे गिर पड़े और उनके हाथ में चोट आ गई। इसके बाद दोनों में हाथापाई हो गई। अन्य भाजपा नेताओं ने बीचबचाव किया। इसके बाद अग्रवाल ने थाने में शिकायती आवेदन भी दे दिया। जब इसकी जानकारी पार्टी जिलाध्यक्ष डॉ. गोपाल आचार्य को हुई तो उन्होंने अग्रवाल को पार्टी के सभी पदों से हटाते हुए निष्कासित कर दिया।

कांग्रेस ने रखीं 6 मांगें

रेस्ट हाउस पर दोपहर करीब 3.30 बजे कांग्रेस जिलाध्यक्ष बृजराज सिंह चौहान के साथ अन्य कांग्रेसी केंद्रीय मंत्री तोमर को 6 मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपने पहुंचे। उन्होंने ज्ञापन सौंपने पहले मंत्री को गुलदस्ता सौंपा। ज्ञापन में ग्वालियर-श्योपुर रेल लाइन, सवाई माधौपुर-श्योपुर-झांसी रेल लाइन, डीआरडीओ की स्वीकृति, लॉ कॉलेज की मान्यता, कूनो में गिर के शेर व ऐच्छिक बीमा व फसल पर मुआवजे के प्रावधान करने की मांगें रखीं।

10 पुलों का होगा निर्माण

केंद्रीय मंत्री ने कलेक्टोरेट में दिशा की बैठक ली। इसमें उन्होंने कृषि क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने पानी बचाने को लेकर निर्देश दिए। बैठक में उन्होंने बताया कि श्योपुर में 10 पुलों का निर्माण किया जाना है, जिनका काम टेंडर प्रक्रिया के साथ शुरू कराया जाए। इसके बाद बैठक में उन्होंने पीएम आवास सहित केंद्र सरकार की अन्य योजना और फसल बीमा की समीक्षा की।

चंबल एक्सप्रेस-वे की डीपीआर बनेगी दोबारा

केंद्रीय कृषि मंत्री तोमर ने पत्रकाराें से चर्चा में कहा कि चंबल एक्सप्रेस-वे की डीपीआर निरस्त हो गई, जिसमें कई टेक्नीकल खामी थीं। उन्होंने कहा कि मैं यह नहीं कह सकता हूं कि चंबल एक्सप्रेस-वे बनेगा ही, क्योंकि मैं झूठ नहीं बोलता, लेकिन इसके लिए प्रयास बंद नहीं होंगे, इसे लेकर वह संबंधित मंत्रालय से चर्चा करेंगे। वहीं कूनो में गिर के शेर लाने को लेकर तोमर ने बताया कि उन्होंने श्योपुर आते ही डीएफओ से चर्चा की है और संबंधित कागजात भी ले लिए हैं। उनकी पहली प्राथमिकता श्योपुर को लेकर कूनो में गिर के शेर लाना और ब्रॉडगेज रेल लाइन रहेगी। श्योपुर-ग्वालियर-कोटा ब्रॉडगेज रेल लाइन पर उन्होंने कहा कि जमीन अधिग्रहण न होने के चलते अगला बजट नहीं मिल पा रहा है। जिसे लेकर उन्होंने मुरैना और श्योपुर कलेक्टर से बात की है। श्योपुर में लॉ कॉलेज की शुरुआत को लेकर तोमर ने कहा कि वे दिल्ली पहुंचते ही बार काउंसिल से बात करेंगे।

खबरें और भी हैं...