Hindi News »Madhya Pradesh »Shivpuri» छात्रों की उपस्थिति बढ़ाने गतिविधि पर आधारित पढ़ाई कराने पर जोर

छात्रों की उपस्थिति बढ़ाने गतिविधि पर आधारित पढ़ाई कराने पर जोर

आपके विद्यालय में यदि छात्रों की उपस्थिति कम है तो आप गतिविधि आधारित पढ़ाई कराओ छात्र पढ़ाई में रुचि भी लेंगे और...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 04:05 AM IST

आपके विद्यालय में यदि छात्रों की उपस्थिति कम है तो आप गतिविधि आधारित पढ़ाई कराओ छात्र पढ़ाई में रुचि भी लेंगे और शैक्षणिक स्तर भी बढ़ेगा। शैक्षणिक गुणवत्ता बढ़ाने के लिए जन शिक्षा केंद्र स्तर पर चल रहे शैक्षिक संवाद कार्यक्रम में जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण केंद्र शिवपुरी के प्राचार्य राजेश सिंह चौहान ने शिक्षकों को बताई। जन शिक्षा केंद्र भौंती पर जन शिक्षक के मार्गदर्शन में पिछले चार माह से यह कार्यक्रम महीना के अंतिम सप्ताह में 5 दिन के लिए आयोजित किया जाता है। शैक्षिक संवाद में उपस्थिति व शिक्षकों ने पढ़ाई में आने वाली कठिनाइयों को साझा किया और उनका समाधान किया। इस अवसर पर शाला सिद्धि योजना पर भी चर्चा की गई। डाइट के मास्टर ट्रेनर रवि शर्मा ने शाला सिद्धि योजना के बारे में बताया कि पहले आयाम को हमारे विद्यालय के शिक्षक पूरा कर चुके है। इसलिए अब आपका लक्ष्य अगले आयाम को पूरा करना होगा। एमटी रमेश कुशवाह ने भी शैक्षिक संवाद में सहभागिता करते हुए कठिन बिंदुओं को सरलीकरण करने के बारे में बताया गया।

शालाओं का वातावरण आकर्षक बनाओ

श्री चौहान ने बताया कि शैक्षणिक गुणवत्ता बढ़ाने के लिए शाला का वातावरण सुंदर बनाना होगा। साथ ही शाला स्तर पर शैक्षणिक सामग्री का निर्माण करने पर आपको कठिन विषय को समझाने में मदद मिलेगी। छात्र भी पढ़ने के साथ सीखने का प्रयास करेगा और यह सीखा हुआ ज्ञान छात्रों को हमेशा याद रहेगा। संवाद कार्यक्रम में जन शिक्षा केंद्र प्रभारी यामिनी कोहली, जनशिक्षक रवि गुप्ता, हेडमास्टर विनोद गुप्ता, सुषमा बुंदेला महोबा, महेंद्र यादव, रश्मि यौगिक, भीम नगर, हरदास वर्मा, राजेंद्र गुप्ता भमरगढ़, सुंदर लाल कोली नयाखेड़ा डेम सहित जन शिक्षा केंद्र के सभी शालाओं के प्रभारी मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shivpuri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×