• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Shivpuri
  • 25 किमी दूर था केंद्र, पेपर देकर आ रहे 2 भाइयों को मेटाडोर ने मारी टक्कर, हाथ-पैरों में फ्रेक्चर
--Advertisement--

25 किमी दूर था केंद्र, पेपर देकर आ रहे 2 भाइयों को मेटाडोर ने मारी टक्कर, हाथ-पैरों में फ्रेक्चर

घायल बेटे को समझाती मां राधा ओझा। दोनों नहीं दे सकेंगे पेपर राधा ने बताया कि उसके छोटे बेटे अनिकेश का भी...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 05:35 AM IST
घायल बेटे को समझाती मां राधा ओझा।

दोनों नहीं दे सकेंगे पेपर

राधा ने बताया कि उसके छोटे बेटे अनिकेश का भी कक्षा 10 का पेपर 5 मार्च को था। बैराड़ के लखेश्वर हाईस्कूल में इनका सेंटर पड़ा है। बड़ा बेटा जहां पेपर देने गया था, वहीं छोटा बेटा परीक्षा केंद्र देखने। लेकिन मेटाडोर इन्हें टक्कर मारकर भाग गई।

10 से 15 किमी दूर बनाए कई परीक्षा केंद्र

इस वर्ष हायर सेकंडरी व हाईस्कूल के एग्जाम के लिए जिला प्रशासन और शिक्षा विभाग जो परीक्षा केंद्र बनाए हैं, वह 10 से 15 किमी तक दूर बना दिए गए हैं। बैराड़ का परीक्षा केंद्र भी 25 किमी दूर था। इस संबंध में जब स्कूल संचालकों ने जिम्मेदारों से बात की तो उन्होंने पहले तो आश्वासन दिया कि सब ठीक कर देंगे। लेकिन बाद में यह कहकर पल्ला झाड़ लिया कि अब कुछ नहीं हो सकता है। ऐसे में 10 से 15 किमी दूर तक बच्चे हाई स्कूल और हायर सेकंडरी की परीक्षा देने के लिए जा रहे हैं। अगर अफसर परीक्षा केंद्र दूर नहीं बनाते तो गजेंद्र व अनिकेत जैसे छात्रों का भविष्य खराब नहीं होता।

डीईओ ने नहीं सुनी


सुविधा के चलते किया