• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Shivpuri
  • Shivpuri - अजा वर्ग के युवक ने जाति प्रमाण पत्र में खुद को अजजा का बताया, जांच में पकड़ा
--Advertisement--

अजा वर्ग के युवक ने जाति प्रमाण पत्र में खुद को अजजा का बताया, जांच में पकड़ा

पटवारी भर्ती के लिए ऑनलाइन 23 आवेदनों की जांच में खुलासा भास्कर संवाददाता | शिवपुरी जिले में विशेष आदिम जनजाति...

Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 05:11 AM IST
पटवारी भर्ती के लिए ऑनलाइन 23 आवेदनों की जांच में खुलासा

भास्कर संवाददाता | शिवपुरी

जिले में विशेष आदिम जनजाति (सहरिया, बैगा एवं भारिया) पटवारी भर्ती के लिए साल 2018 में 23 आवेदकों द्वारा ऑनलाइन आवेदन किया गया था। कलेक्टर शिल्पा गुप्ता ने आवेदनों की जांच करने पांच सदस्यीय कमेटी गठित की। कमेटी ने सोमवार को दस्तावेजों की जांच कर आवेदकों की काउंसिलिंग की। जिसमें दो आवेदकों के जाति प्रमाण पहली ही नजर में संदिग्ध नजर आए और फर्जी पाए जाने पर पुलिस कोतवाली को कार्रवाई के लिए भेजा है।

डिप्टी कलेक्टर एवं समिति के सदस्य आरए प्रजापति ने बताया कि आवेदक सूरज जगनेरी पुत्र राजेन्द्र जगनेरी निवासी जाटव मोहल्ला मुरैना गांव तहसील मुरैना स्वयं अनुसूचित जाति का है। लेकिन सूरज ने ऑनलाइन जाति प्रमाण-पत्र में विशेष तकनीकी का उपयोग कर सहरिया जाति आदिवासी का फर्जी प्रमाण-पत्र प्रस्तुत किया। जाति प्रमाण-पत्र की जांच के दौरान कमेटी ने उससे कड़ाई से पूछताछ की और ऑनलाइन जाति प्रमाण-पत्र जाटव जाति का पाया गया। इसके बाद मामला पुलिस को भेज दिया है।