• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Shivpuri
  • Shivpuri - एडीएम साहब के यहां मैं खाना बनाती थी उनका तबादला हो गया, पगार कौन देगा
--Advertisement--

एडीएम साहब के यहां मैं खाना बनाती थी उनका तबादला हो गया, पगार कौन देगा

साहब, मैं पिछले एडीएम के यहां खाना बनाती थी। अब उनका तबादला हो गया, लेकिन एक महीने 13 दिन की पगार देकर नहीं, मेरी पगार...

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 05:26 AM IST
Shivpuri - एडीएम साहब के यहां मैं खाना बनाती थी उनका तबादला हो गया, पगार कौन देगा
साहब, मैं पिछले एडीएम के यहां खाना बनाती थी। अब उनका तबादला हो गया, लेकिन एक महीने 13 दिन की पगार देकर नहीं, मेरी पगार दिलवाओं। इस पर अफसर ने एडीएम को कॉल िकया लेिकन कॉल रिसीव नहीं हुआ।

फतेहपुर निवासी उर्मिला ओझा ने जिला पंचायत सीईओ राजेश जैन को सौंपे आवेदन में शिकायत दर्ज कराते हुए कहा कि वह तत्कालीन एडीएम डॉ अनुज रोहितगी के यहां खाना बनाने का काम करती थी हर महीने 4 हजार का वेतन उसके खाते में आ जाता था। पर 1 महीने और 13 दिन का वेतन वह देकर नहीं गए। उनका ट्रांसफर शिवपुरी से अशोकनगर हो गया। पूछा तो वह बोले कि खाते में आ जाएंगे। पर अब तक नहीं आए। अब मेरे पैसे कौन देगा। इस पर अधिकारियों ने उसका आवेदन तो रख लिया। पर जनसुनवाई से बाहर निकलकर महिला ने यह अवश्य कहा कि यदि उसकी सुनवाई नहीं हुई तो फिर वह सीएम शिवराज सिंह को फोन पर अपनी समस्या बताएगी और वह अपने पैसे लेकर रहेगी । वहीं इस संबंध में जब एडीएम डॉ अनुज रोहितगी से 2बार मोबाइल नंबर 9425470080 पर बात करने की कोशिश की गई पर मोबाइल रिसीव नहीं हुआ।

शासकीय प्राथमिक विद्यालय सेमरी मेंं पदस्थ सहायक अध्यापक आंखों से 100 फीसदी दिव्यांग बलबीर सिंह यादव अपने भाई के बेटे की अंगुली थाम मंगलवार को कलेक्टोरेट पहुंचा। और बोला कि उसके साथ अन्याय हो रहा है। जब उसका मेडिकल संलग्न है फिर वेतन काटने की कार्रवाई कैसे की जा सकती है।इस पर सीईओ राजेश जैन ने शिक्षक से पूछा कि क्या तुम ब्रेल लिपि जानते हो शिक्षक बोला नहीं। फिर शिक्षक से पूछा गया तुम बच्चों को कैसे पढ़ाते होगे तो वह बोला कि हम बच्चों को सुनाकर,अ,आ,इ,ई पढ़ाते है। इसके बाद शिक्षक का आवेदन लेकर उसे घर रवाना कर दिया। वहीं शिक्षक बोला कि उसे यदि शिवपुरी के ही किसी स्कूल में सेवाएं देने का अवसर मिले तो भी वह तैयार है।



अफसरों से राहत मिलती न देख महिला ने कहा- वेतन तो मैं लेकर रहूंगी, अब सीएम से शिकायत करूंगी

शिकायती पत्र दिखाती महिला उर्मिला ओझा। दूसरे चित्र में लेपटॉप की राशि न मिलने की शिकायत करते छात्रा मोनम चौहान।

अफसरों से अनाज न मिलने की शिकायत करती दक्खो बाई।

बुजुर्ग महिला यह कहकर रो पड़ी कि उसका अंगूठा लगवा लेते है लेकिन अनाज नहीं देते

शहर के लुहारपुरा में रहने वाली बुजुर्ग महिला दक्खो बाई का कहना था कि उसके 2 बेटे है जिसमें एक की मौत हो गई और दूसरा अस्पताल में लंबे समय से भर्ती है। वह अनाज लेने जाती है तो उसका अंगूठा लगवा लेते है और उसे अनाज नहीं देते। इतना कहते ही वह जोर जोर से रोने लगी और मदद की गुहार लगाने लगी।

यहां अनपढ़ को कुछ नहीं मिलता,कुछ पढ़ो और लिखो योग्य बनो तभी तुम्हारी मदद होगी

जनसुनवाई के दौरान मनियर में रहने वाली आरती ने शिकायत करते हुए कहा कि उसे सुख सुविधाओं की मदद करें। कुछ राशन दिलवाएं कुछ नगद भी दिलवाएं क्योंकि उसके परिवार में न पिता है न भाई वह तीन बहिनों में से एक है और परेशान है। इस पर सीईओ ने पूछा अच्छा तुम पढ़ी लिखी हो क्या। जब उसने बोला नहीं तो सीईओ बोले पढ़ लिख लो तभी मदद हो सकेगी।

छात्रा का आरोप-तीन महीने हो गए नहीं मिली लेपटॉप की राशि

छात्रा मोनम चौहान ने बताया कि उसने कक्षा 12 की परीक्षा में 76.4 फीसदी अंक हासिल किए है। उसकी सहेलियों को लेपटॉप मिल गए है पर वह लेपटॉप की राशि से वंचित है। जिससे उसकी पढाई प्रभावित हो रही है। उसे कभी परीक्षा कक्ष भेजा जाता है तो कभी स्कूल पर चक्कर लगाकर वह परेशान हो गई है और अब अपने खाते में राशि चाहती है। ताकि वह कंप्यूटर से आगे की पढाई में मदद ले सके।

युवक रोकर बोला- साहब प|ी बच्चों को नरेश भगा ले गया,उन्हें वापस दिलवाओ,नहीं तो मर जाऊंगा

जनसुनवाई में रोते हुए युवक परिवर्तित नाम कन्हैया बोला कि उसकी प|ी से अवैध संबंंध नरेश जाटव ने बना लिए। यह घटना तब हुई जब वह काम के सिलसिले में बाहर था। उसने प|ी से अवैध संबंध बनाकर उसे अपना बना लिया और उसे लेकर रफू चक्कर हो गया। यही नहीं मेरे बच्चों को भी साथ ले गई। युवक का आरोप है कि नरेश से उसके बच्चों और बीबी को वापस दिलाया जाए। इस पर युवक को कार्रवाई के लिए एस पी के पास आवेदन डिप्टी कलेक्टर ने मार्क कर दिया।

Shivpuri - एडीएम साहब के यहां मैं खाना बनाती थी उनका तबादला हो गया, पगार कौन देगा
Shivpuri - एडीएम साहब के यहां मैं खाना बनाती थी उनका तबादला हो गया, पगार कौन देगा
X
Shivpuri - एडीएम साहब के यहां मैं खाना बनाती थी उनका तबादला हो गया, पगार कौन देगा
Shivpuri - एडीएम साहब के यहां मैं खाना बनाती थी उनका तबादला हो गया, पगार कौन देगा
Shivpuri - एडीएम साहब के यहां मैं खाना बनाती थी उनका तबादला हो गया, पगार कौन देगा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..