--Advertisement--

शिविर आज, शिक्षकों की समस्याएं निपटेंगी

भास्कर संवाददाता|अंचल शिवपुरी प्रदेश सरकार की पहल पर शिक्षा विभाग के कर्मचारियों के लिए परिवेदना निवारण शिविर...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 06:30 AM IST
भास्कर संवाददाता|अंचल शिवपुरी

प्रदेश सरकार की पहल पर शिक्षा विभाग के कर्मचारियों के लिए परिवेदना निवारण शिविर का आयोजन 18 मई को किया जाएगा। यह शिविर विकास खंड स्तर पर स्थिति उत्कृष्ट विद्यालयों में आयोजित होंगे। इसके लिए विकास खंड शिक्षा अधिकारी को शिविर का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। जिला शिक्षा अधिकारी परमजीत सिंह गिल का कहना है कि यह शिविर शिक्षा विभाग के सभी कर्मचारियों शिक्षकों व अध्यापकों की समस्याओं को लेकर लगाए जा रहे हैं जिसमें कर्मचारी व शिक्षक उनकी स्थापना ए सभी स्वत्वों ए समस्याओं और शिकायतों के संबंध में आवेदन दे सकेंगे। इसके लिए सभी विकासखंडों में अधिकारी तैनात कर दिए हैं जो कि कर्मचारियों की समस्याएं सुनकर गंभीरता के साथ उनका निपटारा करेंगे।

इन समस्याओं का होगा निपटारा

डीईओ गिल का कहना है कि 18 मई को ब्लॉक के उत्कृष्ट विद्यालयों में लगाए जा रहे समस्या निवारण शिविरों में शिक्षा विभाग के कर्मचारी शिक्षक अध्यापक व्याख्याता प्राचार्य विभागीय अमले की सभी तरह की समस्याओं का निराकरण किया जाएगा। उत्कृष्ट विद्यालयों में सुबह 10.30 बजे से श्याम 5.30 बजे तक लगाए जा रहे हैं शिविरों में वरिष्ठता संबंधी, समयमान वेतनमान, क्रमोन्नति, वरिष्ठ वेतनमान, वेतन वृद्धि, वेतन संबंधी, सामान्य भविष्य निधि, अंशदान, अवकाश संबंधी व गोपनीय चरित्रावली से संबंधित समस्याओं के आवेदन दिए जाएंगे जिनका निराकरण समय सीमा में किया जाएगा। पोहरी में 18 मई को लगने वाले ब्लॉक स्तरीय समस्या निवारण शिविर के स्थान मैं बदलाव किया गया है। मॉडल स्कूल के प्राचार्य एमके शर्मा का कहना है की पहले यह शिविर किले के अंदर स्थित शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय में लगाया जा रहा था लेकिन किले के अंदर खुदाई का कार्य चलने से अब इसके स्थान पर यह शिविर मॉडल स्कूल में आयोजित होगा।

शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाना शिविर का उद्देश्य

राज्य सरकार के स्कूल शिक्षा विभाग का तर्क है कि शिक्षा विभाग प्रमुख रुप से सेवा प्रदाता विभाग है शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए सबसे पहले सेवा प्रदाता यानी कि शिक्षकों वह शिक्षा विभाग के अमले की संतुष्टि जरूरी है विभागीय शैक्षिक अमले शिक्षकों का अन्य कर्मचारियों को स्थापना संबंधी समस्याओं के निराकरण व अन्य तत्वों को लेकर हमने सेक्स वर्कर को छोड़कर ब्लॉक जिला व संभागीय कार्यालय या संचालनालय तक जाना पड़ता है जिससे बच्चों की शैक्षणिक प्रगति प्रभावित होता है। साथ ही शैक्षणिक अमले को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसलिए विभागीय अमले की मानसिक संतुष्टि के लिए जरूरी होगा कि इनकी समस्याओं का निराकरण मिशन मोड में किया जाए।