पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने बांटी जा रही औषधि

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

आमजन में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुष विभाग द्वारा शनिवार को नि:शुल्क दवा वितरित की गई। साथ ही विभाग द्वारा कोरोना वायरस के प्रति सावधानी बरतने की नागरिकों को सलाह दी। इतना ही नहीं विभाग द्वारा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए नागरिकों को आयुर्वेदिक दवा बांटी गई। जिला आयुष अधिकारी डॉ. आरके पचौरी ने बताया कि जिले में कार्यरत विभागीय केंद्रों में एवं जिला आयुष अस्पताल में कार्यरत आयुष औषधी केंद्रों एवं होम्योपैथी औषधियों के माध्यम से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए नागरिकों को औषधियां बांटी जा रही हैं। आयुर्वेद में दशमनी बटी एक-एक गोली दिन में तीन बार त्रिकुट चूर्ण एक बार पानी में उबालकर गिलोय कैप्सूल एक-एक सुबह,शाम तथा अणु तेल या पड़ बिंदु तेल का नासिका में उपयोग किए जाने की सलाह दी जा रही है।

जिले में बनाए 32 आयुर्वेदिक 6 होम्योपैथिक केंद्र

जिले में 32 आयुर्वेदिक तथा 6 होम्योपैथिक केंद्र एक आयुष एवं जिला चिकित्सालय में अब तक 41 हजार 794 लोगों को प्रतिरक्षी दवा प्रदान की गई है। इसमें करैरा में डॉ. वीरेंद्र कोरकू, खनियांधाना में योगेंद्र शर्मा, करही में बृजेश भार्गव, पोहरी में प्रमोद पुरोहित, कोलारस में डॉ. रामकुमार गुप्ता, सिरसौद अभिषेक गोयल, सतनवाड़ा रजनी चतुर्वेदी, रन्नौद राजेंद्र गुप्ता, राजेंद्र गुप्ता को जिम्मेदारी सौंपी है। वही निगरानी के लिए नोडल अधिकारी अनिल वर्मा को बनाया गया है।

सही असर के लिए खाली पेट खाएं होम्योपैथी दवा

होम्योपैथी में आर्सेनिक 30 छह गोली 3 दिन खाली पेट लेने की सलाह दी जा रही है। साथ ही बताया है कि अभी तक 200 से अधिक लोगों को दवाइयां वितरित की जा चुकी है। वही सर्दी जुकाम खांसी के मरीजों की जांच की जा रही है और उनके दवाइयां दी जा रही हैं उन्होंने नागरिकों से आग्रह किया है कि मैं हाथ ना मिलाएं बल्कि हाथ जोड़कर अभिवादन करें। व्यक्तिगत स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें, साबुन से कम से कम 20 सेकंड हाथ धोएं, मास्क का प्रयोग करें तथा प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली दवाइयों का सेवन करें।
खबरें और भी हैं...