--Advertisement--

कंफर्ट झोन से बाहर आएं तभी बनेंगी महिलाएं सशक्त

दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का समापन, देशभर के ढाई सौ से अधिक बुद्धिजीवियों ने की शिरकत भास्कर संवाददाता |...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 05:25 AM IST
दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का समापन, देशभर के ढाई सौ से अधिक बुद्धिजीवियों ने की शिरकत

भास्कर संवाददाता | शुजालपुर

महिलाएं कंफर्ट जोन से बाहर आकर कर्मशील होंगी तभी असली सशक्तिकरण होगा और स्वास्थ्य- शिक्षा बेहतर होने से ही महिला अपने ढंग से जीकर हालात को बदल सकती है।

ये विचार शासकीय जवाहरलाल नेहरू स्नातकोत्तर महाविद्यालय में आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी में महिला सशक्तिकरण चुनौतियां व संभावना विषय पर देशभर के शोधार्थियों ने व्यक्त किए। बुधवार को आयोजन का समारोह पूर्वक समापन हुआ। इससे पूर्व राष्ट्रीय संगोष्ठी के दूसरे दिन तकनीकी सत्र में प्रदेश व बाहर से आए शोधार्थियों प्राध्यापकों सामाजिक कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने शोध पत्र प्रस्तुत किए तथा विचार विमर्श किया।

तकनीकी सत्र की अध्यक्षता डॉ. के एन प्रसाद छत्तीसगढ़ ने की व विषय विशेषज्ञ के रूप में डॉक्टर मंजू लता दुबे भोपाल मंचासीन रहे। आभार प्रवीण धारीवाल ने माना।