--Advertisement--

आवक बढ़ी तब भाव 1 हजार कम, घटी तो व्यापारियों ने बढ़ा दिए 700 रुपए

टंकी चौराह स्थित फल सब्जी मंडी में शनिवार को फिर से प्याज की नीलामी शुरू हो गई। खास बात यह है कि इस दिन उपज की आवक कम...

Dainik Bhaskar

Feb 11, 2018, 05:25 AM IST
आवक बढ़ी तब भाव 1 हजार कम, घटी तो व्यापारियों ने बढ़ा दिए 700 रुपए
टंकी चौराह स्थित फल सब्जी मंडी में शनिवार को फिर से प्याज की नीलामी शुरू हो गई। खास बात यह है कि इस दिन उपज की आवक कम होने के बाद भी किसानों को अच्छे दाम मिले। बता दें चार दिन पहले प्याज के दाम एक ही दिन में 1000 रुपए गिर जाने के बाद किसानों ने हंगामा कर दिया था। जिसके बाद दो दिन तक मंडी बंद रही। किसानों और व्यापारियों की बीच की समस्या को दूर करने के बाद व्यापारियों को अब आवक बढ़ने का इंतजार रहेगा। व्यापारियों की मानें तो इंदौर मंडी से खुले भाव के कारण तेजी आई।

शनिवार को करीब पांच साल बाद नीलामी प्रक्रिया सुबह 8 बजे की जगह 9 बजे शुरू की गई। मंडी खुलने के बाद यहां आए किसानों ने अपना माल सीधे फड़ पर ही खाली किया। मंडी प्रबंधन द्वारा व्यापारियों के लिए की गई बैठक व्यवस्था से मंडी में ज्यादा परेशानी नहीं हुई। इस दिन कुल 800 क्विंटल प्याज की आवक दर्ज की गई। प्याज के दाम 2200 रुपए प्रति क्विंटल से 1000 रुपए प्रति क्विंटल रहे। किसान मानसिंह पंवार ने बताया मंडी आने के पहले इंदौर और शुजालपुर दोनों मंडियों में दाम तलाश कर लिए थे। पहले व्यापारियों ने बोली की शुरुआत कम से शुरू की थी, लेकिन बाद में प्याज की क्वालिटी को लेकर बोली लगाई गई।

दाम में गिरावट की आशंका- प्याज का कारोबार शुरू होते ही एक बार फिर प्याज के दाम को लेकर विरोधाभास मंडी में देखने को मिला। कुछ व्यापारियों का कहना था दो दिन से प्याज नहीं आने के कारण शनिवार को दाम तेज रहे, लेकिन आने वाले दिनों में आवक बढ़ने के कारण दाम फिर गिर सकते हैं। ऐसे में मंडी प्रबंधन को भी उपज के दाम को लेकर व्यापारियों सहित बाहर की मंडियों पर नजर रखनी पड़ेगी।

मंडी में बोरियों में प्याज भरते मजदूर।

X
आवक बढ़ी तब भाव 1 हजार कम, घटी तो व्यापारियों ने बढ़ा दिए 700 रुपए

Recommended

Click to listen..