Hindi News »Madhya Pradesh »Shujalpur» निर्माण के लिए दस फीसदी अंशदान जमा नहीं कर रहे लोग, इसलिए 790 घर भी शौचालय विहीन

निर्माण के लिए दस फीसदी अंशदान जमा नहीं कर रहे लोग, इसलिए 790 घर भी शौचालय विहीन

भास्कर संवाददाता | शुजालपुर स्वच्छ भारत अभियान के तहत शहर को साफ रखने जहां नगर पालिका मेहनत करने में लगी है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 11, 2018, 05:25 AM IST

भास्कर संवाददाता | शुजालपुर

स्वच्छ भारत अभियान के तहत शहर को साफ रखने जहां नगर पालिका मेहनत करने में लगी है। वहीं सरकारी अनुदान पर शौचालय बनाने के मामले में जनता द्वारा दस फीसदी अंशदान राशि जमा न करने से शुजालपुर के 25 वार्ड में से एक भी इलाका खुले में शौच मुक्त घोषित नहीं हो पाया है।

स्वच्छ भारत अभियान के तहत शहरी क्षेत्र में शौचालयविहीन परिवारों का तीन वर्ष पूर्व सर्वे कर एक हजार दो सौ चालीस परिवारों को चिन्हित किया गया था। यहां शौचालय बनाने नगर पालिका द्वारा टेंडर आमंत्रित कर एजेंसी तय की गई। हर घर में शौच करने के स्थल निर्माण पर 13 हजार 600 रुपए खर्च के मान से 90 फीसदी अनुदान बतौर सरकार से राशि मिलना व हितग्राही से दस फीसदी अंशदान की राशि 1360 रुपए जमा कराना तय हुआ। नगर पालिका शुजालपुर के 25 वार्ड के करीब 450 लोगों ने अंशदान राशि जमा कराकर शौचालय बनवाया जा चुका है, लेकिन सर्वे के मुताबिक चिन्हित 790 परिवार अब भी खुले में शौच के लिए जाने को विवश है। अब तक 450 स्थल पर निर्माण पूर्ण कर ऑनलाइन अपडेशन किया गया है। केवल तीन स्थानों पर हितग्राहियों ने स्वयं व शेष जगह ठेकेदार ने निर्माण किया है। इस मान से अब भी कुल 790 घरों में शौचालय बनना शेष है और औसतन 5 लोगों के प्रति परिवार के मान से शुजालपुर शहरी क्षेत्र में 3 हजार से अधिक लोग घर के बाहर रोज शौच करने जाते हैं। नगर पालिका ने इन हितग्राहियों को कई बार सूचना-पत्र भी जारी किए, लेकिन असर नहीं हुआ। नगर पालिका के तकनीकी अमले के अनुसार अधिकांश आवेदक कैसे भी सिर्फ नकद राशि पाना चाहते हैं व निर्माण कराने में किसी की कोई रुचि नहीं है। नगर के स्लेम एरिया में सर्वाधिक शौचालय निर्माण वार्ड 9 जेल रोड शुजालपुर सिटी, वार्ड 19 मानस भवन मार्ग के आगे नदी किनारे वाले इलाके सहित फ्रीगंज के वार्ड 24 के स्लम एरिया अयोध्या बस्ती, वार्ड 22 के मार्केटिंग सोसायटी इलाके में लंबित है। इन क्षेत्रों में लोग खुले में शौच करने न जाए, इसलिए चलित शौचालय रखे गए है।

शौचालय बनना शेष है

नगर पालिका अध्यक्ष संदीप सणस ने बताया कई लोग पट्टा आवंटन क्षेत्र के बाहर अतिक्रमण में शौचालय बनवाने चाहते है व कई लोग अंशदान की राशि जमा नहीं कर पाए है, लक्ष्यनुसार शौचालय बनना शेष है। जल्द ही नगर को खुले में शौच मुक्त बनाया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shujalpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×