--Advertisement--

जिलेभर में सिर्फ चार ब्रीथ एनालाइजर के भरोसे जांच

जिला पुलिस द्वारा वरिष्ठ कार्यालय से मिले निर्देश के बाद 1 मार्च से एक बार फिर शराब के नशे में वाहन चलाने वालों की...

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2018, 05:40 AM IST
जिलेभर में सिर्फ चार ब्रीथ एनालाइजर के भरोसे जांच
जिला पुलिस द्वारा वरिष्ठ कार्यालय से मिले निर्देश के बाद 1 मार्च से एक बार फिर शराब के नशे में वाहन चलाने वालों की जांच शुरू हो गई। हालांकि जिले की यातायात पुलिस के पास इस जांच के लिए जरूरी उपकरण ब्रीथ एनालाइजर की कमी बनी हुई है। जिलेभर के मान से यातायात पुलिस के पास सिर्फ 4 उपकरण चालू स्थिति में है। ऐसे में वाहन चालकों में शराब की स्थिति जांचने के लिए स्मेल के आधार पर मेडिकल कराना पड़ेगा। हालांकि विभाग के जिम्मेदार यह भी तर्क दे रहे हैं कि जल्द ही नए ब्रीथ एनालाइजर मिल जाएंगे।

पुलिस द्वारा समय समय पर लोगों को जागरूक करने के लिए इस तरह के अभियान चलाए जाते हैं। इस बार भी यह अभियान शुरू हो गया है। यातायात पुलिस को संसाधनों की कमी से जूझना पड़ेगा। पुलिस सूत्रों की मानें तो जिले में 12 थानों पर सिर्फ 4 मशीन ही हैं। इसमें एक यातायात थाना शाजापुर, 1 कोतवाली और 1 शुजालपुर में है। स्टाॅक में रखी एक मशीन को मक्सी सहित अन्य थानों के लिए उपयोग किया जाता है। संसाधनों के मान से यातायात पुलिस के पास न तो प्रदूषण जांचने और न स्पीड चेक करने की मशीन है। ऐसे में पुलिस अपने पारंपरिक तरीकों से ही कार्रवाई कर रही है।

दो मार्गों पर खास नजर

अभियान शुरू होने के बाद यातायात पुलिस के साथ शहर के दोनों थानों की पुलिस भी शराब पीकर वाहन चलाने वालों पर कार्रवाई करेगी। खास तौर पर हाईवे के साथ शहर के मुख्य दो मार्ग दुपाड़ा और बेरछा रोड पर भी चेकिंग की जाएगी। ज्ञात रहे इन दोनों मार्ग पर हाल के दिनों में हादसों का आंकड़ा बढ़ा है।

वाहन चालक की ब्रीथ एनालाइजर से जांच करते पुलिस अधिकारी।

अमले के साथ थानों में मशीनें भेज दी जाती हैं


X
जिलेभर में सिर्फ चार ब्रीथ एनालाइजर के भरोसे जांच
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..