Hindi News »Madhya Pradesh »Shujalpur» छात्रावास में पेयजल संकट, हैंडपंप से भरना पड़ता है

छात्रावास में पेयजल संकट, हैंडपंप से भरना पड़ता है

हाल ही में स्टेडियम ग्राउंड के पास बनकर तैयार हुए नवीन छात्रावास भवन में छात्राओं को शिफ्ट कराते ही नई परेशानी खड़ी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 21, 2018, 05:55 AM IST

हाल ही में स्टेडियम ग्राउंड के पास बनकर तैयार हुए नवीन छात्रावास भवन में छात्राओं को शिफ्ट कराते ही नई परेशानी खड़ी हो गई है। यहां पानी का कोई इंतजाम नहीं होने के कारण छात्राओं को रात में हैंडपंपों के चक्कर लगाना पड़ रहे हैं। मंगलवार को कलेक्टोरेट पहुंची छात्राओं ने कलेक्टर श्रीकांत बनोठ को इस परेशानी से अवगत कराया। इस पर कलेक्टर ने सीएमओ को निर्देश देकर छात्राओं को पर्याप्त पानी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

ज्ञात रहे कन्या पोस्ट मैट्रिक छात्रावास में छात्राओं को करीब 15-20 दिन पहले ही शिफ्ट किया गया है। शुरुआत से ही यहां पानी की समस्या है। जो ट्यूबवेल लगाए गए हैं, उनमें पानी नहीं होने से जिला संयोजक निशा मेहरा ने नपा अधिकारी से चर्चा कर टैंकर की व्यवस्था कराई। लेकिन इससे पानी की पूर्ति नहीं हो सकी। कई बार उन्होंने अधीक्षिका को अवगत कराया। बावजूद परेशानी का हल नहीं होने पर वे मंगलवार को कलेक्टोरेट पहुंची और कलेक्टर को परेशानी बताई। मौजूद प्रभारी सीएमओ ने बताया फिलहाल टैंकर से पानी पहुंचाया जा रहा है, लेकिन होस्टल प्रबंधन ने अब तक नल कनेक्शन के लिए भी आवेदन नहीं दिया। इस कारण नल कनेक्शन भी नहीं दे सके। इधर, मामले की जानकारी जिला संयोजक मेहरा तक पहुंचीं और उन्होंने होस्टल वार्डन को दो वेतनवृद्धि रोकने के नोटिस दे दिए।

छात्रावास में बिजली नहीं : शुजालपुर से आई शिकायत सहित शाजापुर में बिजली नहीं होने की समस्या आने के मामले में भी जिला संयोजक मेहरा ने दोनाें छात्रावासों के वार्डनों को नोटिस थमा दिए हैं। जिसमें उन्हें दो वेतनवृद्धि रोकने का अल्टीमेटम दिया है।

नए पोस्ट मैट्रिक छात्रावास की छात्राएं कलेक्टर के पास पहुंचीं, दो अन्य छात्रावास अधीक्षकों पर भी होगी कार्रवाई

जनसुनवाई आवेदन देने पहुंची पोस्ट मैट्रिक छात्रावास की छात्राएं।

तीन जरूरतमंदों को आर्थिक सहायता

जनसुनवाई के दौरान दुर्गाबाई ने पोते के भरण पोषण के लिए सहायता प्रदान करने, मुंगोद की जीवनबाई ने बच्चे की एक आंख खराब होने से सहायता प्रदान करने और कांजा की ललताबाई ने गरीबी के कारण आर्थिक सहायता प्रदान करने का आवेदन दिया था। कलेक्टर श्रीकांत बनोठ ने आवेदकों के हालात देख रेडक्राॅस सोसायटी शाजापुर से दुर्गाबाई एवं जीवनबाई के लिए 2-2 हजार और ललता बाई के लिए एक हजार की आर्थिक सहायता स्वीकृत कर चेक प्रदान किए हैं। उल्लेखनीय है कि दुर्गाबाई अपने का भरण पोषण कर रही है। पोते के माता-पिता नहीं है। इसी तरह जीवनबाई ने पुत्र की एक आंख बीमारी के कारण खराब होने से उसके उपचार के लिए और ललता बाई ने गरीबी के कारण आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण सहायता राशि मांगी थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shujalpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×