शुजालपुर

  • Home
  • Madhya Pradesh News
  • Shujalpur News
  • बच्चों, दिव्यांगों से लेकर बीमार तक के लिए सरकार की योजना, निचले स्तर तक के हर व्यक्ति को लाभ
--Advertisement--

बच्चों, दिव्यांगों से लेकर बीमार तक के लिए सरकार की योजना, निचले स्तर तक के हर व्यक्ति को लाभ

भास्कर संवाददाता | शुजालपुर शिविरों के माध्यम से शासकीय योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लोगों को फायदा मिल रहा है।...

Danik Bhaskar

Mar 12, 2018, 06:05 AM IST
भास्कर संवाददाता | शुजालपुर

शिविरों के माध्यम से शासकीय योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लोगों को फायदा मिल रहा है। प्रदेश सरकार व केंद्र सरकार की सभी योजनाओं में गरीबों के हितों को ध्यान में रखा गया है। एक तरफ प्रदेश सरकार चाहती है कि बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले। वहीं दूसरी तरफ सरकार योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए अंत्योदय मेले और दिव्यांग शिविर का आयोजन किया जा रहा है। जिस प्रकार से इस शिविर में हितग्राहियों को लाभांवित किया जा रहा है, उससे यह बात स्पष्ट है कि शासन की योजना का लाभ नीचे स्तर तक पहुंच रहा है।

उक्त बात प्रदेश के तकनीकी शिक्षा मंत्री व जिला प्रभारी दीपक जोशी ने जटाशंकर महादेव मंदिर पर आयोजित पं. दीनदयाल अंत्योदय मेले व दिव्यांग शिविर के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में कही।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा अब 70 प्रतिशत तक अंक लाने वाले बच्चों को डॉक्टर व इंजीनियर बनाने की योजना शुरू की है। केंद्र सरकार की योजनाओं को गिनाते हुए उन्होंने कहा प्रदेश सरकार के साथ केंद्र सरकार द्वारा भी कई जनकल्याणी योजना लागू कर रही है। इसमें मुख्य रूप से प्रधानमंत्री आवास योजना, किडनी के मरीजों के लिए डायलिसिस करने के लिए जिला मुख्यालय पर शासकीय अस्पतालों में दी जा रही सुविधा, उज्ज्वला योजना सहित कई अन्य योजना शामिल है। कार्यक्रम को विधायक जसवंत सिंह हाड़ा ने संबोधित करते हुए क्षेत्र में किए जा रहे विकास कार्यों की जानकारी देते हुए प्रदेश सरकार द्वारा किसानों के हित में चलाई जा रही योजनाओं के बारे में बताया। कालापीपल विधायक इंदर सिंह परमार ने प्रदेश विभिन्न योजनाओं का कैसे लाभ हितग्राही ले सकता है, इसके बारे में अवगत करवाया।

इस दौरान विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को लाभांवित किया गया। इसमें कैलिपर्स, ट्रायसिकल, लाडली लक्ष्मी योजना के प्रमाण-पत्र, स्कूली छात्र-छात्राओं को साइकिल वितरित की गई। स्वागत भाषण जनपद पंचायत के अध्यक्ष किशोर पाटीदार ने दिया। संचालन जेपी शर्मा ने किया। आभार जनपद पंचायत के सीईओ नितिन भट्ट ने माना।

शिविर के दौरान एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान , जिला पंचायत सीईओ वंदना शर्मा, मंडी अध्यक्ष कैलाश सोनी, नपाध्यक्ष संदीप सणस, दौलत सिंह मंडलोई, बाबूसिंह राजपूत, राजेश सक्सैना, सुनील दैथल , गीतादेवी पाटीदार, किरण जैन, एसडीएम केके मालवीय उपस्थित थे।

दिव्यांगों को ट्राइसिकल वितरित करते हुए।

तय समय से तीन घंटे देरी से पहुंचे प्रभारी मंत्री

जटाशंकर महादेव मंदिर पर आयोजित जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए हितग्राहियों को सुबह 10 बजे से बुला लिया गया था 11 बजे शिविर का शुभारंभ किया जाना था। विधायक कालापीपल इंदर सिंह परमार व जसवंत सिंह हाड़ा तो कार्यक्रम में 12 बजे उपस्थित हुए, लेकिन प्रभारी मंत्री दीपक जोशी अपने तय समय से करीब 3 घंटे देरी से दोपहर 2 बजे शिविर में पहुंचे । इस कारण हितग्राहियों को योजनाओं से लाभांवित होने के लिए लंबे समय तक इंतजार करना पड़ा। सुबह से आए हितग्राहियों को भोजन के पैकेट भी दोपहर को 3 बजे वितरित किए गए।

प्रमाण-पत्र नहीं दिए जाने पर लोगों ने नाराजगी जताई

आयोजित शिविर के दौरान विभिन्न विभागों द्वारा अपने- अपने स्टाल लगाए थे, इसमें हितग्राहियों को योजनाओं का लाभ देने की प्रकिया पूरी की जा रही थी। इसी दौरान स्वास्थ विभाग द्वारा विकलांगों के लिए बनाए जा रहे प्रमाण में एक हितग्राही ने स्वास्थ विभाग के कर्मचारियों पर अभद्रता करते हुए प्रमाण बनाने में अानाकानी करने का आरोप लगाया। सरपंच संघ के अध्यक्ष निर्भय सिंह यादव ने नाराजगी जताते हुए वरिष्ठ अधिकारियों तथा जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया । इसके बाद एसडीएम के.के. मालवीय ने मामले को शांत कराया । सरपंच निर्भय सिंह यादव ने बताया शासन की योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए हम ग्रामीण क्षेत्र से लोगों को लेकर आते हैं, उसके बाद अगर कर्मचारी उनके साथ इस प्रकार से अभद्रता करते है, तो यह गलत बात है। इसको लेकर ही मेरे द्वारा तथा हमारे सरपंच सदस्यों द्वारा आपत्ति दर्ज करवाई गई थी।

Click to listen..