• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Shujalpur News
  • पांच साल से मुफ्त प्रशिक्षण कैंप लगाकर तैयार किए 300 खिलाड़ी, 15 ने राज्य स्तर पर चमकाया नाम
--Advertisement--

पांच साल से मुफ्त प्रशिक्षण कैंप लगाकर तैयार किए 300 खिलाड़ी, 15 ने राज्य स्तर पर चमकाया नाम

भास्कर संवाददाता | शुजालपुर प्रतियोगिता के इस दौर में मुफ्त में समय व धन लगाकर शहर के खिलाड़ियों को तैयार करने...

Dainik Bhaskar

Apr 05, 2018, 06:55 AM IST
पांच साल से मुफ्त प्रशिक्षण कैंप लगाकर तैयार किए 300 खिलाड़ी, 15 ने राज्य स्तर पर चमकाया नाम
भास्कर संवाददाता | शुजालपुर

प्रतियोगिता के इस दौर में मुफ्त में समय व धन लगाकर शहर के खिलाड़ियों को तैयार करने के लिए पॉजीटिव स्पोर्ट्स क्लब ने बीते 5 साल से बीड़ा उठा रखा है। अब तक इस संस्था ने शहर के 300 खिलाड़ियों को तैयार कर वर्षभर का गतिविधि कैलेंडर बना रखा है। प्रशिक्षण पा चुके 15 खिलाड़ी राज्य स्तर पर अपनी पहचान भी बना चुके हैं।

शहर की सबसे प्राचीन खेल प्रोत्साहन संस्था द पॉजीटिव स्पोर्ट्स क्लब ने 5 साल से शहर के खिलाड़ियों को तराशने के लिए कैंप शुरू किया है। हर वर्ष गर्मी की छुट्टियों में 60 दिन तक लगने वाले इस कैंप में प्रशिक्षण लेने वाले खिलाड़ियों का मुफ्त पंजीयन कर उन्हें खेल की बारीकियां सिखाई जाती है। पांच साल में अब तक इस संस्था ने शहर के 300 से अधिक खिलाड़ियों को अलग-अलग खेल में तराशा है। इनमें से 15 खिलाड़ियों ने राज्य स्तर तक प्रदर्शन करने के साथ ही शहर की पहचान बनाई। इस वर्ष भी संस्था ने डॉक्टर शैल कुमार शर्मा स्मृति स्टेडियम में समर कैंप खेल प्रशिक्षण का शुभारंभ गत दिवस किया। शाम को हुए शुभारंभ समारोह में शहर के डेढ़ सौ खिलाड़ी पंजीयन कराने के बाद पहले दिन में ट्रेनिंग में शामिल हुए। 31 मई तक चलने वाले इस कैंप में फुटबॉल व वालीबॉल का प्रशिक्षण खिलाड़ियों को अलग-अलग प्रशिक्षक देंगे।

स्पोर्ट्स क्लब से शहर के करीब 200 लोग जुड़े हुए हैं। कई लोग समय देकर खिलाड़ियों को तराशने में मदद करते हैं, तो कुछ वरिष्ठ संसाधन सुलभ कराने में मदद करते हैं। खिलाड़ियों को जूते-बॉल व खेल संसाधन के साथ ही अन्य उपयोगी चीजें भी क्लब द्वारा ही सुलभ कराई जाती है। संस्था से जुड़े सदस्य वर्षगांठ, जन्मदिन व अन्य अवसरों पर खेल सामग्री सुलभ कराकर इस संस्था में सहभागी बनते हैं।

खेल प्रशिक्षण में परिचय प्राप्त करते अतिथि।

काउंसलिंग से तय करते हैं कौन-सा खिलाड़ी कहां फिट

कैंप में मुफ्त पंजीयन व प्रशिक्षण की निशुल्क सुविधा होने से शहर के खिलाड़ी खेल का हुनर सीखने की मंशा से यहां पहुंचते हैं। संस्था द्वारा खिलाड़ियों की काउंसलिंग कर उनका शारीरिक परीक्षण किया जाता है। उसके बाद निर्णायक दल यह तय करता है कि कौन सा खिलाड़ी किस खेल प्रशिक्षण के लिए उपयुक्त है और आगे जाकर नाम कमा सकता है। कई खिलाड़ियों को प्रशिक्षण अवधि के बीच में भी खेल बदलने के लिए परामर्श देकर उपयुक्त खेल का प्रशिक्षण दिया जाता है।

पांच प्रशिक्षक बिना फीस देते हैं सीख

कैंप में खेल प्रशिक्षण देने वाले सभी प्रशिक्षक व संस्था से जुड़े लोग किसी प्रकार का कोई पारिश्रमिक नहीं लेते। सब का मकसद होता है शहर की खेल प्रतिभाओं को तराशने का। वर्तमान में इस संस्था में पांच प्रशिक्षक राजेंद्र नायडू फुटबाल, मनोज पाटीदार क्रिकेट, धीरेंद्र देशमुख वालीबॉल, मनीष इचोरिया टेबल टेनिस व लोकेंद्र तोमर तीरंदाजी का प्रशिक्षण दे रहे हैं।

समर कैंप में खेल की बारीकियां सीखने आए शहर के खिलाड़ी।

राज्य स्तर पर चमके यह खिलाड़ी

5 वर्ष पूर्व तक खेल से दूर रहने वाले खिलाड़ियों ने लगातार प्रशिक्षण पाने के बाद शाला स्तर-विकास खंड स्तर पर नाम कमाने के बाद राज्य स्तर तक डंका बजाया है। यह 15 खिलाड़ी लगातार राज्य स्तर पर प्रतियोगिताओं में अपनी धूम मचाए हुए हैं, इनमें सुशांत परमार, संजय बंजारा, पंकज बंजारा, यश पाठक, अंकित सैनी, रोनित बंजारा, अंजलि पाटीदार, नीतिका कुलकर्णी, रितिका कुलकर्णी, पूर्णिमा पाटीदार, पर्व सोनी, उन्नति सक्सेना, अर्तिका विजयवर्गीय ने राज्य स्तर पर सहभागिता दर्ज कराने के साथ ही आगामी स्तर के लिए चयन सुनिश्चित किया है।

X
पांच साल से मुफ्त प्रशिक्षण कैंप लगाकर तैयार किए 300 खिलाड़ी, 15 ने राज्य स्तर पर चमकाया नाम
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..