शुजालपुर

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Shujalpur News
  • नकाबपोशों ने रास्ता रोककर बैंक प्रबंधक पर हमला कर पैर तोड़ा, संघ ने की कार्रवाई की मांग
--Advertisement--

नकाबपोशों ने रास्ता रोककर बैंक प्रबंधक पर हमला कर पैर तोड़ा, संघ ने की कार्रवाई की मांग

मोहम्मदखेड़ा एसबीआई प्रबंधक के साथ हुई घटना, पुलिस का अंदेशा डिफाल्टर होने से नाराज लोगों ने घटना को दिया अंजाम ...

Dainik Bhaskar

Jan 18, 2018, 07:25 AM IST
मोहम्मदखेड़ा एसबीआई प्रबंधक के साथ हुई घटना, पुलिस का अंदेशा डिफाल्टर होने से नाराज लोगों ने घटना को दिया अंजाम

भास्कर संवाददाता | शुजालपुर

अनुभाग मुख्यालय से 8 किलोमीटर दूर मोहम्मदखेड़ा इलाके की बैंक में पदस्थ प्रबंधक को मंगलवार रात अज्ञात नकाबपोशों ने घर आते समय रोककर हमला कर घायल कर दिया। बाइक से सहयोगी के साथ आ रहे प्रबंधक को घटना में पैरों में गंभीर चोट आई है। पुलिस ने अंदेशा जताया है कि बैंक द्वारा डिफाल्टर घोषित किए गए ग्राहक व सहयोगियों ने आक्रोशित होकर इस घटना को अंजाम दिया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस के अनुसार भारतीय स्टेट बैंक शाखा मोहम्मद खेड़ा में पदस्थ प्रबंधक हेमंत कपूर 1 साल से इस शाखा में सेवाएं दे रहे हैं। मंगलवार रात सवा 9 बजे बैंक का काम पूरा कर शाखा में पदस्थ दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी राहुल के साथ बाइक से शुजालपुर अपने श्रीनगर कॉलोनी स्थित निवास पर आ रहे थे। बैंक से आते समय पूर्व से पीछा कर रहे तीन बाइक सवार नकाबपोशों ने उनका रास्ता रोककर पहले बाइक चला रहे सहयोगी राहुल को दो चांटे मारे और उसके बाद बैंक प्रबंधक हेमंत कपूर पर लाठियों से हमला कर दिया। घटना में दोनों पैरों में गंभीर चोट आने से हमलावर उन्हें वहीं छोड़ कर भाग खड़े हुए। बाद में बैंक प्रबंधक ने स्वयं के मोबाइल से एम्बुलेंस को सूचना देकर अपने परिचितों को घटना की जानकारी दी।

घायल बैंक प्रबंधक को शुजालपुर के निजी अस्पताल में उपचार दिया जा रहा है तथा उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है। घटना के बाद बुधवार दोपहर भारतीय स्टेट बैंक अधिकारी संघ के पदाधिकारियों ने शुजालपुर पहुंचकर घायल साथी से मुलाकात की। संघ के पदाधिकारियों ने अनुविभागीय अधिकारी पुलिस अमित मिश्रा से मुलाकात कर घटना की निष्पक्ष जांच व दोषियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की। इस दौरान इंदौर अंचल बैंक अधिकारी संघ के उप महासचिव जय नारायण गुप्ता, क्षेत्रीय सचिव प्रदीप तिवारी, मुख्य प्रबंधक एचआर शरद गोयल, कमल तलवार, सुरेंद्र पाल सिंह भाटिया, दीपक कलौंजे, अरुण गुप्ता, शैलेंद्र वर्मा, अमिताभ सिन्हा, अभिभाषक आलोक श्रीवास्तव, सहित अन्य उपस्थित थे।

एसडीओपी अमित मिश्रा ने बताया घटना के पीछे जो भी तत्व है उन्हें जल्द ही पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया जाएगा। उन्होंने आशंका व्यक्त करते हुए कहा कि डिफाल्टर होने से नाराज होकर बैंक के किसी खाताधारक व उसके साथियों द्वारा इस तरह की घटना को अंजाम दिया जाना प्रतीत होता है।

X
Click to listen..