• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Shujalpur News
  • नर्मदा का जल दुधी नेवज नदी में लाने केे लिए सीएम निवास तक किसानों का निकलेगा पैदल मार्च
--Advertisement--

नर्मदा का जल दुधी नेवज नदी में लाने केे लिए सीएम निवास तक किसानों का निकलेगा पैदल मार्च

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2018, 07:30 AM IST


भास्कर संवाददाता | शुजालपुर

पेयजल और सिंचाई के लिए पानी की किल्लत से जूझ रहे सीहोर व शाजापुर जिले के 40 गांवों के लगभग 8000 किसान नर्मदा का जल दुधी नेवज नदी में लाने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री निवास तक पैदल मार्च निकालेंगे। अवंतिपुर बड़ोदिया क्षेत्र के आसपास रोज इसकी तैयारी को लेकर बैठकों का दौर जारी है।

सीहोर जिले की जावर तहसील के ग्राम कान्याखेड़ी में दुधी नदी पर प्रस्तावित मध्यम सिंचाई परियोजना (बांध) बनाने व नर्मदा का जल दुधीनेवज नदी में लाने पूर्व में सीएम द्वारा की गई घोषणाओं पर अमल न होने से नाराज किसान बड़ा आंदोलन कर सरकार तक अपनी परेशानी पहुंचाने की तैयारी में है। महेंद्र सोनी ने बताया कि 5 फरवरी 2006 को अवंतिपुर बड़ोदिया आगमन के दौरान सीएम ने सभामंच से शीघ्र ही सर्वे करवाने का आश्वासन दिया था। इसके पश्चात 2009 में जावर तहसील के शुभारंभ के अवसर पर सभामंच से कान्याखेड़ी बांध शीघ्र बनवाने की विधिवत घोषणा की। वर्ष 2014 व 15 में भी आष्टा और जावर में अलग-अलग दो कार्यक्रम में मुख्यमंत्री द्वारा सांसद मनोहर ऊंटवाल के आग्रह पर घोषणा को दोहराते हुए किसानों को आश्वस्त किया था। घोषणा और आश्वासन के बाद भी काम न होते देख दोनों जिलों के करीब 40 ग्रामों के किसान पैदल मार्च में शामिल होंगे।

इस संबंध में पिछले 10 दिनों से विभिन्न ग्रामों में बैठकों का दौर जारी है। पेयजल और सिंचाई हेतु क्षेत्र में बारिश को छोड़कर शेष माह पानी की किल्लत से जूझ रहे किसान 16 जनवरी की सुबह खड़ी जोड़ से मुख्यमंत्री निवास तक पैदल प्रस्थान करेंगे। इसमें अवंतिपुर बड़ोदिया तहसील क्षेत्र के बड़ोदिया, अवंतिपुरा, नेवजखेड़ी, देवनखेड़ी, गिगलाखेड़ी, पंवाड़िया, अमस्याखेड़ी, बिनाया,शंभूपुरा, नयापुरा, खेरखेड़ी आदि ग्रामों के किसानों के अलावा आष्टा-जावर तहसील क्षेत्र के मेहतवाड़ा, डोडी,कुरावर, मुरावर, कान्याखेड़ी, खड़ी, चामसी,सेवदा,खामखेड़ा, बैजनाथ, कल्याणपुरा, फ़ूडरा, टिगरिया, अरोलिया, परोलिया, कर्मनखेड़ी, भंवरी बाजखेड़ी,गेहूंखेड़ी, हर्नियागांव, मुंडला, हरनावदा, गाजीअर्निया, पलासी के किसान पैदल मार्च कर भोपाल पहुंचेंगे। यात्रा के लिए भोजन हेतु गेहूं संग्रह, नकद चंदा, टेंट सामग्री व अन्य संसाधनों के लिए ट्रैक्टर, वाहन की व्यवस्था भी की जा रही हैं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..