• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Shujalpur News
  • शिक्षकों ने बैठक कर केंद्र प्रभारी काे चेताया, आठ दिन में निदान नहीं होने पर कलेक्टर से करेंगे शिकायत
--Advertisement--

शिक्षकों ने बैठक कर केंद्र प्रभारी काे चेताया, आठ दिन में निदान नहीं होने पर कलेक्टर से करेंगे शिकायत

शुजालपुर | जन शिक्षा केंद्र शासकीय उच्चतर बालक माध्यमिक विद्यालय में फैली अव्यवस्थाओं के बीच नाराज शिक्षकों ने...

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 05:20 AM IST
शुजालपुर | जन शिक्षा केंद्र शासकीय उच्चतर बालक माध्यमिक विद्यालय में फैली अव्यवस्थाओं के बीच नाराज शिक्षकों ने बैठक का आयोजन कर प्राचार्य एवं बाबू की शिकायत करने का निर्णय लिया है। मंगलवार को बैठक में मध्यान्ह भोजन वितरण, अर्जित अवकाश एवं वेतन समय पर न मिलने के कारण शिक्षकों में नाराजगी देखी गई। सभी शिक्षक-शिक्षिकाओं ने एक स्वर में इसकी निंदा करते हुए शिकायती पत्र जन शिक्षा केंद्र प्रभारी को चेताते हुए लिखा कि आठ दिन के अंदर समस्याओं का निदान नहीं हुआ, तो कलेक्टर को लिखित में शाजापुर जाकर इनकी शिकायत की जाएगी।

ज्ञात रहे ग्रीष्मावकाश के दौरान यदि शिक्षकों से काम लिया जाता है, तो उनको अर्जित अवकाश की पात्रता होती है, लेकिन आज दिनांक तक विगत 2 वर्षों में की गई सेवा के लिए कोई अर्जित अवकाश उनकी सर्विस बुक में संधारित नहीं किया गया। सर्विस बुक मांगने पर उनको सर्विस बुक नहीं दिखाई जाती है। साथ ही शिक्षकों ने मांग की है कि हमारी सेवा पुस्तिका की एक कॉपी हमें tउपलब्ध कराई जाए, लेकिन लगातार निवेदन करने के बावजूद उनकी इस मांग को नजरअंदाज किया जा रहा है। इससे नाराज होकर जन शिक्षा केंद्र के शिक्षकों ने निर्णय लिया है कि जब तक विभागीय पत्र जिसमें ग्रीष्मावकाश के बदले अर्जित अवकाश का उल्लेख हो, जारी नहीं होगा तब तक हम मध्याह्न भोजन वितरण का कार्य गर्मियों के दिनों में नहीं करेंगे। इसकी सूचना पत्र के माध्यम से प्राचार्य को प्रेषित कर दी गई है।

बैठक में यह थे उपस्थित

रमेश परमार,ललित बीड़वाले, बद्रीप्रसाद परमार, मनराज पंवार, यूनुस कुरैशी, आसिफ पठान, उमेश लेवे, शिवम नेमा, प्रदीप श्रीवास्तव, जनशिक्षक गिरीशनाथ दिनेश मालवीय, दिनेश मंडलोई, ओपी मेवाड़ा, नंदकिशोर मानवी सावित्री मालवीय, परवीन कुरैशी, सुनीता केशवाल, सिद्धूलाल मालवीय, रामनारायण करनजिया, गोरेलाल यादव, नरेंद्र जैन, आबिद खान पठान, दीपचंद यादव, राजेंद्र पांचाल, कैलाश विश्वकर्मा, अभय कुलकर्णी, राजाराम जाटव एवं मनोहर सिंह यादव सहित बड़ी संख्या में जन शिक्षा केंद्र के शिक्षक एवं शिक्षिकाएं उपस्थित थे।