• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Shujalpur News
  • पर्यटन क्षेत्र जटाशंकर को करेंगे विकसित, 85 लाख से तरणताल, मॉर्निंग वॉक ट्रैक और जिम का प्लान
--Advertisement--

पर्यटन क्षेत्र जटाशंकर को करेंगे विकसित, 85 लाख से तरणताल, मॉर्निंग वॉक ट्रैक और जिम का प्लान

भास्कर संवाददाता | शुजालपुर पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित हो रहे 16 वी शताब्दी के जटाशंकर मंदिर क्षेत्र में...

Danik Bhaskar | Apr 27, 2018, 06:15 AM IST
भास्कर संवाददाता | शुजालपुर

पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित हो रहे 16 वी शताब्दी के जटाशंकर मंदिर क्षेत्र में तरणताल, मॉर्निंग वॉक, ट्रैक व व्यायाम के लिए अत्याधुनिक जिम का निर्माण करने के लिए नगरपालिका ने कार्य योजना तैयार कर राज्य शासन को भेजने सांसद मनोहर ऊंटवाल को सौंपी। इस प्रस्तावित सुविधा का शहर के लिए निर्माण की उपयोगिता व लोगों को होने वाले लाभ की जानकारी नगर पालिका अध्यक्ष ने सांसद को दी।

धार्मिक आस्था का केंद्र बने शुजालपुर के प्राचीन जटाशंकर महादेव मंदिर के आसपास सुलभ सरकारी भूमि पर अब अन्य जनउपयोगी विकास कार्य करने की पहल नगर पालिका ने करते हुए कार्ययोजना तैयार की है। इस मंदिर के आसपास यहां वर्ष 2010 से लेकर अब तक करीब 2 करोड़ रुपए का काम सरकारी अनुदान व जन सहयोग से कराया जा चुका है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा डे.शेल्टर भवन निर्माण के लिए एक करोड़ की राशि स्वीकृत की गई थी। इसके अलावा जन सहयोग से एकत्रित राशि से भी यहां समतलीकरण, बाउंड्री वाल, शिखर निर्माण, उद्यान, सुलभ कॉम्प्लेक्स सहित अन्य कार्य हुए। पर्यटन की दृष्टि से नदी के आसपास पाथ वे भी बनाया गया है।

वर्तमान में भी शुजालपुर फोरलेन मार्ग से मंदिर तक तीन करोड़ से अधिक लागत की फोरलेन सड़क निर्माणाधीन है। क्षेत्र में आमजन के लिए मॉर्निंग वॉक ट्रैक बनाने के साथ ही स्वीमिंग पूल व व्यायाम के लिए जिम का निर्माण करने के लिए नगरपालिका द्वारा डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनवाकर 85 लाख की स्वीकृति का प्रस्ताव राज्य शासन को सांसद मनोहर ऊंटवाल के माध्यम से भेजा है। सांसद ऊंटवाल ने कहा कि जन सहयोग व शासन के सहयोग से पर्यटन केंद्र के रूप में निर्मित हो रहे जटाशंकर को तरणताल सहित अन्य सुविधा दिलाने के लिए पूरा प्रयास होगा।

कार्य योजना सांसद को सौंपते नगर पालिका अध्यक्ष संदीप सणस

नदी गहरीकरण के लिए भी बनाई योजना

नगर पालिका द्वारा जमधड़ नदी के पूरे क्षेत्र में गहरीकरण कर जल संग्रहण क्षमता बढ़ाने के लिए विस्तृत कार्य योजना के लिए सर्वे कराया गया है। तकनीकी अधिकारियों द्वारा सर्वे कर बारीकी से प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाकर नगरपालिका को जल्द दी जाएगी। राज्य शासन को यह रिपोर्ट भेजकर नदी के गहरीकरण से जल संग्रहण क्षमता बढ़ाकर पेयजल व सिंचाई उपयोगिता के आधार पर राज्य शासन से वित्तीय अनुमोदन लिया जाएगा। नगर पालिका अध्यक्ष संदीप सणस ने बताया केवल वर्षा ऋतु के पहले औपचारिकता के लिए गहरीकरण करने से नदी के अस्तित्व व जल की उपयोगिता को आमजन तक नहीं पहुंचाया जा सकता इसलिए नगर पालिका द्वारा गहरीकरण के लिए विस्तृत योजना बनवाकर मूर्त रूप देने के प्रयास किए जा रहे हैं।

अच्छी पहल

नगर पालिका ने सांसद ऊंटवाल को सौंपाी कार्ययोजना