• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Shujalpur
  • कर्जा चुकाने के लिए की लूट, रकम ज्यादा रहे इसलिए सोमवार का दिन चुना था, पंप मैनेजर सहित 5 गिरफ्तार
--Advertisement--

कर्जा चुकाने के लिए की लूट, रकम ज्यादा रहे इसलिए सोमवार का दिन चुना था, पंप मैनेजर सहित 5 गिरफ्तार

भास्कर संवाददाता | शुजालपुर कालापीपल अरन्याकलां मार्ग पर ग्राम अकोदी जोड़ के पास अरंडिया के समीप पेट्रोल पंप...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 06:35 AM IST
कर्जा चुकाने के लिए की लूट, रकम ज्यादा रहे इसलिए सोमवार का दिन चुना था, पंप मैनेजर सहित 5 गिरफ्तार
भास्कर संवाददाता | शुजालपुर

कालापीपल अरन्याकलां मार्ग पर ग्राम अकोदी जोड़ के पास अरंडिया के समीप पेट्रोल पंप कर्मचारी के साथ हुई लूट का पुलिस ने गुरुवार को खुलासा कर दिया।

वारदात को अंजाम देने वाले पंप मैनेजर और एक कर्मचारी सहित 5 बदमाशों को गिरफ्तार कर उनसे 7 लाख 70 हजार रुपए और एक टवेरा कार जब्त की। खुलासे में यह बात सामने आई कि मैनेजर ने ही अपना कर्ज चुकाने के लिए लूट की योजना बनाई थी। रकम ज्यादा रहे, इसके लिए सोमवार का दिन तय किया गया। क्योंकि शनिवार और रविवार को बैंक बंद रहने के कारण पंप की सिलक पंप मालिक तक नहीं पहुंचाई गई थी। लूट के खुलासे की खबर भास्कर ने गुरुवार के अंक में ही प्रकाशित कर दी थी।

एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान ने लूट की वारदात में पकड़े गए आरोपियों के बारे में खुलासा करते हुए बताया कि 15 मई की दोपहर को गांधी पेट्रोल अरंडिया के कर्मचारी देवकरण व कुणाल जब पंप से 7 लाख 75 हजार रुपए लेकर जा रहे थे तभी उनको अरन्या-कालापीपल मार्ग पर रोककर लूट को अंजाम देते हुए उनके पास से रखे रुपए छीन लिए थे। इसके बाद पुलिस द्वारा एक टीम का गठन करके आरोपियों को पकड़ने के प्रयास किए। इसमें सबसे पहले पंप मैनेजर उपेंद्र पटेल पिता चंदर सिंह निवास अरंडिया व पंप पर काम करने वाले कर्मचारी कृष्ण पिता संतोष वर्मा निवासी अरंडिया से पूछताछ की गई। दोनों ने पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया, लेकिन जब दोनों से अलग-अलग पूछताछ की गई, तो उनके द्वारा वारदात को अंजाम देने के लिए तीन अन्य लोगों का सहयोग लेने की बात बताई। उन्होंने बताया कि इस वारदात को अंजाम देने के लिए उनके द्वारा अनिल राठौर पिता रामचंद निवासी मैना जिला सीहोर, अनिल सोनानिया पिता देवीप्रसाद सोनानिया निवासी मैना हाल मुकाम नूर मस्जिद के पास इटावा नगर देवास, अजय ठाकुर पिता सुरेश निवासी व्यास नगर इंदौर का सहयोग लिया गया। पुलिस द्वारा आरोपियों के पास से 5 मोबाइल व 77099 रुपए व एक टवेरा गाड़ी को जब्त करने की कार्रवाई की गई है। आरोपियों द्वारा 41 सौ रुपए डीजल व शराब पार्टी में खर्च करना बताया गया है। पंप पर काम करने वाले कर्मचारी कृष्णा ने वारदात को अंजाम देने के लिए तीन अन्य युवकों का उपयोग किया। उसके पहले से ही अनिल राठौर पहले से संपर्क में था। उसके माध्यम से ही उसके द्वारा दो अन्य युवकों से संपर्क किया गया ।

खुलासे के दौरान आरोपियों के साथ कार्रवाई करने वाली पुलिस टीम।

कम उम्र के युवकों का किया उपयोग

जिस दिन रुपए कालापीपल पंप संचालक के पास भेजे जा रहे थे उस दिन पंप के मैनेजर उपेंद्र द्वारा कम उम्र के युवक कुणाल व देवकरण का उपयोग रुपए भेजने के लिए किया गया ताकि उसके द्वारा बनाई गई योजना में वह सफल हो सके। साथ ही उसके द्वारा बीच-बीच में मोबाइल से वह उसके कालापीपल पहुंचने की लोकेशन भी ले सके।

तीन दिन की रकम होने के कारण बनाई योजना

आरोपी उपेंद्र पटेल जो पंप पर मैनेजर था, ने लूट की योजना सोमवार को इसलिए बनाई क्योंकि इस दिन पंप पर हुई बिक्री की तीन दिन की रकम रहेगी। क्योंकि शनिवार और रविवार को बैंक बंद होने के कारण उसके द्वारा रकम पंप संचालक के पास नहीं भेजी गई थी। अधिक राशि होने से उसके द्वारा इस दिन को चूना गया।

X
कर्जा चुकाने के लिए की लूट, रकम ज्यादा रहे इसलिए सोमवार का दिन चुना था, पंप मैनेजर सहित 5 गिरफ्तार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..