Hindi News »Madhya Pradesh »Sironj» भूमिपूजन में न सांसद पहुंचे, न ही विधायक, जनपद अध्यक्ष गए तो उन्होंने मंच से एसडीओ की खिंचाई की

भूमिपूजन में न सांसद पहुंचे, न ही विधायक, जनपद अध्यक्ष गए तो उन्होंने मंच से एसडीओ की खिंचाई की

क्षेत्र के लिए महत्वपूर्ण पांच सिंचाई परियोजना का गुरुवार को सिंचाई विभाग ने बेहद ठंडा भूमिपूजन किया। विभाग...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 13, 2018, 05:35 AM IST

क्षेत्र के लिए महत्वपूर्ण पांच सिंचाई परियोजना का गुरुवार को सिंचाई विभाग ने बेहद ठंडा भूमिपूजन किया। विभाग द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम को जनप्रतिनिधियों की ही तवज्जो नहीं मिली। न सांसद कार्यक्रम में पहुंचे और न ही विधायक। जनपद अध्यक्ष पहुंचे भी तो उन्होंने मंच से ही सिंचाई विभाग को भविष्य में इस तरह की गलती नहीं होने की चेतावनी भी दी। गुरुवार को क्षेत्र की पांच बड़ी सिंचाई परियोजना का भूमिपूजन हुआ। इस आयोजन के लिए आमंत्रण पत्र बांटे गए थे।

उसमें सांसद लक्ष्मीनारायण यादव, विधायक गोवर्धन उपाध्याय, जनपद अध्यक्ष जितेन्द्र बघेल तथा लटेरी जनपद अध्यक्ष माखनसिंह यादव का उल्लेख था। इनमें से सिर्फ जनपद अध्यक्ष जितेन्द्र बघेल ही आयोजन में सहभागिता करने के लिए पहुंचे। सांसद की ओर से उनके पुत्र सुधीर यादव तो विधायक की ओर से उनके दामाद भरत दीप मेहता कार्यक्रम में पहुंचे। आयोजन को लेकर सिंचाई विभाग के लापरवाही भरे रवैए को लेकर जनपद अध्यक्ष जितेन्द्र बघेल ने मंच से नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि साढ़े तीन साल से जनपद अध्यक्ष बना हूं। पहली बार पता चला कि सिंचाई विभाग भी क्षेत्र में कोई काम कर रहा है। दो-तीन दिन पहले इस आयोजन की जानकारी दी गई थी तो योजनाओं से जुड़ी जानकारी मांगी थी लेकिन मुझे जानकारी नहीं मिली। कार्यक्रम में ये पत्रक मुझे दिया है। जितनी जानकारी आपको है, उतनी ही मेरे पास भी है। उन्होंने कहा कि पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा के प्रयासों से ये योजनाएं क्षेत्र के लिए स्वीकृत हो सकी हैं लेकिन योजना को लेकर विभाग के अधिकारियों का रवैया निराशाजनक है। भविष्य में इस तरह की लापरवाही न हो इसका विभाग ध्यान रखे। सिंचाई विभाग के एसडीओ वीपी अहिरवार ने बताया कि हमें खुद 10 तारीख को पता चला कि यह कार्यक्रम होना है। इस कारण जितना हो सकता था उतने लोगों तक सूचना पहुंचा दी।

एक वोट से मिल गए दो सेवक: भाजपा नेता सुधीर यादव ने कहा कि लोकसभा चुनाव में जनता ने एक वोट देकर दो सेवक चुन लिए हैं पिताजी दिल्ली में थे, किसी कारणवश वे नहीं आ सके तो उन्होंने मुझे यहां भेज दिया। हम दोनों में से कोई न कोई तो आएगा ही। उन्होंने प्रदेश सरकार की योजनाओं पर भी इस दौरान प्रकाश डाला।

भोपाल और गुना को मिलेगा लाभ: टैम मध्यम सिंचाई परियोजना के लिए 3 अरब 83 करोड़ 15 लाख रुपए प्रदान किए गए हैं। परियोजना से 9 हजार 990 हेक्टेयर क्षेत्र सिंचित होगा। भोपाल और गुना जिले के 69 गांवों के किसानों को इसका लाभ मिलेगा। परियोजना में विदिशा जिले के 5 और भोपाल के 5 गांव प्रभावित होंगे। इनमें लटेरी के दपकन, मजीद गढ़ और खेड़ली गांव पूरी तरह डूब जाएंगे। डूब क्षेत्र में आने वाले 1080 परिवारों को विस्थापित किया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sironj

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×