• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sironj News
  • सरल बिजली बिल के जो फार्म निशुल्क मिलना थे, वे कार्यालय के बाहर 10 रुपए में बिक रहे
--Advertisement--

सरल बिजली बिल के जो फार्म निशुल्क मिलना थे, वे कार्यालय के बाहर 10 रुपए में बिक रहे

संबल योजना में शामिल सरल बिजली बिल योजना अवैध कमाई का माध्यम बन गई है। योजना के जो फार्म बिजली कंपनी द्वारा...

Danik Bhaskar | Jul 04, 2018, 06:45 AM IST
संबल योजना में शामिल सरल बिजली बिल योजना अवैध कमाई का माध्यम बन गई है। योजना के जो फार्म बिजली कंपनी द्वारा निशुल्क प्रदान किए जाना चाहिए थे। वही फार्म कंपनी कार्यालय के बाहर एक दर्जन युवा 10-10 रुपए में बेच रहे हैं।

मुख्यमंत्री संबल योजना के तहत सरकार ने सरल बिजली बिल योजना की शुरूआत भी की है। योजना के तहत बीपीएल कार्डधारी उपभोक्ताओं का जून के महीने तक का बिजली बिल माफ किया जा रहा है। वहीं असंगठित मजदूरों को हर महीने 200 रुपए में बिजली प्रदान करने की बात कही जा रही है। योजना का लाभ लेने के लिए नगर और ग्रामीण इलाके के उपभोक्ताओं में खासा उत्साह बना हुआ है। लोगों के उत्साह का कई लोग अवैध फायदा भी उठा रहे हैं ये लोग योजना के तहत निशुल्क मिलने वाले फार्म को बिजली कंपनी कार्यालय के बाहर खुलेआम 10-10 रुपए में बेच रहे हैं। मंगलवार दोपहर में लिंक रोड पर स्थित ग्रामीण क्षेत्र के कार्यालय के बाहर मंगलवार को ग्रामीणों की भीड़ लगी हुई थी। वहीं कार्यालय के ठीक सामने और एक तरफ योजना के तहत निशुल्क मिलने वाले फार्म खुल कर बेचे जा रहे थे। जो लोग फार्म बेच रहे थे उनमें एक युवती सहित एक दर्जन युवा शामिल थे। ग्रामीण बकायदा लाइन में लगकर ये फार्म खरीद कर इन्हीं युवाओं से भरवा रहे थे। कमलिया निवासी गुलाबसिंह और पामाखेड़ी निवासी हरनाम सिंह ने बताया कि सुबह के समय जब फार्म जमा करने आए तो कार्यालय के बाहर मौजूद लड़कों ने रोक लिया। इनका कहना था कि कार्यालय में लाइन में लगने से अच्छा है। फार्म हमसे ले लो। फ्री में भर कर भी देंगे। सिर्फ हम ही नहीं सैकड़ों लोग इन लोगों से ही फार्म लेकर जमा कर रहे हैं।

संबल योजना के फार्म तो निशुल्क मिल रहे हैं