--Advertisement--

42 फीट ऊंचाई पर घूमे गल महाराज

समीपस्थ ग्राम घट्टियाभाना में शुक्रवार को धुलेंडी के अवसर पर मेघनाथ परिसर में 10 हजार लोगों की उपस्थिति में एक...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 03:40 AM IST
समीपस्थ ग्राम घट्टियाभाना में शुक्रवार को धुलेंडी के अवसर पर मेघनाथ परिसर में 10 हजार लोगों की उपस्थिति में एक दिवसीय पारंपरिक मेघनाथ मेला संपन्न हुआ। मेले में शाम को गल घूमने वाले पड़ियार राजेन्द्र नाल का गांव में ढ़ोल-ढमाकों के साथ जुलूस निकाला गया। गांव के लोगों ने पड़ियार को तिलक लगाकर अपनी इच्छाशक्ति के अनुसार भेंट पूजा प्रदान दी गई। रस्मों के बाद वह पल भी आया जिसे देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग वर्षों से ग्राम घट्टियाभाना में आते हैं।

मेघनाथ मेला परिसर में स्थित करीबन 42 फीट ऊंचे खंभे (लाट) पर नाल समाज के पड़ियार को चढ़ाया गया। ऊंचाई पर चढ़ने के बाद पड़ियार को चारपाई पर लेटाकर उनके सहयोगियों द्वारा पीठ पर रीड की हड्डी वाले स्थान के ऊपर लोहे के 2 हुक चमड़ी में छेद कर डाले गए। इसके बाद फिर इन हुकों के छेद में रस्सी निकालकर रस्सी को खंभे के ऊपरी सिरे पर रखी हुई लकड़ी के एक सिरे से कसकर बांधा गया। लकड़ी के दूसरे सिरे से एक रस्सी को नीचे की ओर लटकाया गया इसके बाद एक गोल चक्कर लगाया गया।

सोनकच्छ। घट्टियाभाना में शुक्रवार को धुलेंडी पर मेघनाथ परिसर में इस तरह से घूमे गल महाराज। फोटो-कुलदीप जाजू

पड़ियार का सम्मान

इस दौरान देवस्थान और मेला परिसर में उपस्थित हजारों लोगों द्वारा मेघनाथ महाराज की जय जयघोष लगाया गया। उधर पड़ियार को इस प्रथा के दौरान लगाए गए हुकों की जगह पर रक्तधारा निकल गई । गल घूमने के बाद बाद ग्रामवासियों व समिति ने उनका साफा पहनाकर कर सम्मान किया।

विधायक ने बनाई जलेबी

मेले में आसपास के क्षेत्र के श्रद्धालुओं के साथ विधायक राजेंद्र वर्मा अपने समर्थकों के साथ पंहुचे व मेले का आनन्द उठाया। साथ ही वर्मा ने मेले में लगी दुकानों पर पहुंचकर जलेबी बनाई व आमजन को खिलाई। नायब तहसीलदार राजभानसिंह कुशवाह, टीआई राजेन्द्रकुमार चतुर्वेदी सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डटे रहे।