Hindi News »Madhya Pradesh »Sonkutch» सांसद प्रतिनिधि की मुश्किलें बढ़ीं, जपं अध्यक्ष पत्नी को कलेक्टर ने पद से हटाने का नोटिस दिया

सांसद प्रतिनिधि की मुश्किलें बढ़ीं, जपं अध्यक्ष पत्नी को कलेक्टर ने पद से हटाने का नोटिस दिया

मेरा प्रतिनिधि भोला, धमकाने का केस झूठा : सांसद, इधर पुलिस रिकार्ड में 26 केस जिले के चांदाखेड़ी गांव में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 02, 2018, 05:45 AM IST

मेरा प्रतिनिधि भोला, धमकाने का केस झूठा : सांसद, इधर पुलिस रिकार्ड में 26 केस

जिले के चांदाखेड़ी गांव में प्रधानमंत्री आवास के अधूरे निर्माण के बावजूद रुपए निकालने के मामले में जपं के एडीओ डीपी मालवीय और पंचायत सचिव लोकेंद्र को सस्पैंड कर दिया। सरपंच के खिलाफ भी पद से पृथक करने की कार्रवाई शुरू कर गई है। इसके पूर्व संविदा रोजगार सहायक व ब्लॉक कार्डिनेटर बर्खास्त किए जा चुके हैं। मामले में गुरुवार कोसांसद मनोहर ऊंटवाल ने फिर दोहराया कि मेरे प्रतिनिधि दशरथ यादव पर तीन दिन पूर्व जपं सीईओ ने जो केस दर्ज कराया है, वह चांदाखेड़ी के इसी भ्रष्टाचार को उजागर करने का नतीजा है। फर्जीवाड़ा उजागर होने पर दुर्भावनावश केस दर्ज कराया जबकि मेरा प्रतिनिधि तो भोला है। दूसरी तरफ ने सांसद के इस दावे की हवा निकालते हुए दशरथ यादव का पुराना रिकॉर्ड तलब कर लिया है। इसमें सांसद प्रतिनिधि पर 26 पुराने प्रकरण दर्ज होने का दावा किया है। इनमें हत्या, मारपीट, बलाव के आरोप हैं, रासुका, जिलाबदर तक की कार्रवाई दशरथ पर हो चुकी है। कलेक्टर आशीषसिंह पहले ही कह चुके हैं कि दशरथ यादव के खिलाफ स्टाफ ने रुपए मांगने, धमकाने की गंभीर शिकायतें हैं। लिखित में कर्मचारियों का आवेदन मिला है जिसकी जांच कर रहे हैं।

ये प्रकरण हैं सांसद प्रतिनिधि पर :2005 में हत्या, 2000 में प्राणघातक हमला, मापीट, धमकाने, शासकीय कार्य में बाधा, आर्म्स एकट, बलावा से जुड़े 24 प्रकरण हैं। इसके अलावा एक बार रासुका व एक बार जिलाबदर के भी आदेश हो चुके हैं।

जानिए दोनों पक्षों ने क्या कहा

झूठा केस दर्ज कराया

चांदाखेड़ी का भ्रष्टाचार उजागर किया जिसे जांच में सही पाया गया। बावजूद सीईओ पर कार्रवाई नहीं की गई। केवल छोटे कर्मचारियों को सस्पैंड किया। शिकायत की तो रंजिश में सीईओ ने मेरे खिलाफ झूठा केस दर्ज कराया है। पुराने प्रकरणों में दोषमुक्त हूं। दशरथ यादव, जपं अध्यक्ष पति सोनकच्छ

अभद्रता की है

दशरथ यादव ने कागज फेंके और धमकियां दी। आठ माह में सोनकच्छ के कार्यकाल में चार से पांच बार वे अभद्रता कर चुके हैं। मैनंे शिकायतें की हैं। पुलिस उसे गिरफ्तार क्यों नहीं कर रही है, यह समझ नहीं आ रहा है। डॉली परतैती, जपं सीईओ

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Sonkutch News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: सांसद प्रतिनिधि की मुश्किलें बढ़ीं, जपं अध्यक्ष पत्नी को कलेक्टर ने पद से हटाने का नोटिस दिया
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sonkutch

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×