• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sonkutch News
  • Sonkutch - कालीसिंध नदी के किनारे बनेगा कुंड अधिकारियों ने किया निरीक्षण
--Advertisement--

कालीसिंध नदी के किनारे बनेगा कुंड अधिकारियों ने किया निरीक्षण

सोनकच्छ विसर्जन घाट पर कुंड निर्माण के स्थान का निरीक्षण करते अधिकारी तहसीलदार बोले- विसर्जन होने के बाद...

Danik Bhaskar | Sep 09, 2018, 05:35 AM IST
सोनकच्छ विसर्जन घाट पर कुंड निर्माण के स्थान का निरीक्षण करते अधिकारी

तहसीलदार बोले- विसर्जन होने के बाद सुरक्षा का ख्याल रखें

भास्कर संवाददाता | सोनकच्छ

सुप्रीम कोर्ट व एनजीटी के निर्देशों का पालन करते हुए सोनकच्छ प्रशासन ने कालीसिंध नदी में मूर्ति व ताजियों के विसर्जन पर आजीवन रोक लगा दी है। प्रशासन ने नप को कुंड निर्माण का कार्य सौंपा है।

शनिवार को तहसीलदार जीएस पटेल दोपहर ढाई बजे नदी के पिपलेश्वर घाट के समीप पहुंचे। जहां उन्होंने समितियों व एहले इस्लाम पंचायत के सदर गब्बू भाई के साथ मिलकर उक्त स्थान पर विसर्जन कुंड के निर्माण की आम सहमति बनाई। यहां उन्होंने नप सीएमओ मो. अशफाक खान को निर्देशित करते कहा कि, 30 फिट चौड़ा व 20 फिट गहरे कुंड का निर्माण किया जाएं। जिसमें विसर्जन के दिन पानी भरा जाए। हाइड्रोलिक क्रेन के माध्यम से कुंड में मूर्तियों का विसर्जन किया जाएगा।

पटेल ने सीएमओ से कहा है कि, मूर्ति व ताजियों के विसर्जन के बाद उक्त कुंड के आसपास तार फेंसिंग कराई जाए, ताकि उसकी सुरक्षा के साथ-साथ आमजन व पशुओं की भी सुरक्षा हो सकेगी। उधर मौके पर उपस्थित टीआई मनीष मिश्र को विसर्जन के दौरान कुंड के आसपास सुरक्षा व्यवस्था के भी निर्देश दिए है।

पक्का कुंड बनाने का प्रस्ताव शासन को भेजेंगे

सीएमओ खान ने भास्कर से चर्चा करते हुए बताया कि उक्त स्थान पर आगामी दिनों में गार्डन का निर्माण होना है। इसलिए परिषद में सहमति बनाते हुए उक्त कुंड के पक्के निर्माण के लिए प्रस्ताव पास कराकर शासन को भेजा जाएगा। शासन से स्वीकृति प्राप्त होने के बाद फव्वारे लगाने का कार्य किया जाएगा। ताकि उसकी सुंदरता और निखर जाए। हाल ही में दो दिवस के अंदर कुंड निर्माण का कार्य शुरू किया जाएगा। निरीक्षण के दौरान नायब तहसीलदार राजभानसिंह कुशवाह, कस्बा पटवारी ओपी बिंजवा, सचिन बघेल, राजू गौड़, दीपक शर्मा, विनोद गौड़ आदि उपस्थित थे।