सोनकछ

  • Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sonkutch News
  • Sonkutch - तहसील न्यायालय के 399 प्रकरणों में 15 लाख से अधिक की वसूली हुई
--Advertisement--

तहसील न्यायालय के 399 प्रकरणों में 15 लाख से अधिक की वसूली हुई

न्यायालय परिसर में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत लगी। इसमें तहसील न्यायालय के 399 प्रकरणों में 15 लाख रु. से अधिक की...

Danik Bhaskar

Sep 09, 2018, 05:35 AM IST
न्यायालय परिसर में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत लगी। इसमें तहसील न्यायालय के 399 प्रकरणों में 15 लाख रु. से अधिक की वसूली की गई। अतिथि अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश अशोक भारद्वाज, न्यायाधीश संदीप जैन, न्यायाधीश प्रसन्नसिंह बेहरावत, कार्यपालन यंत्री एमके सक्सेना ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यापर्ण एवं दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारंभ किया। विद्युत विभाग, विभिन्न बैंक, नगर परिषद आदि विभाग के अधिकारी-कर्मचारी ने उपस्थित रहकर प्रकरणों मे समझौते कराए व राशि जमा की। देर शाम तक चली अदालत में अपर जिला एवं सत्र न्यायालय में 383 प्रकरण विद्युत व 2 प्रकरण क्लेम का निराकरण कर 13 लाख 46 हजार रुपए राशि जमा की गई। प्रिलिटिगेशन के 1881 प्रकरण विद्युत, 12 बैंक के प्रकरणों का निराकरण कर 1 लाख 28 हजार 140 रुपए राशि कुल 2293 प्रकरणों का निराकरण करते हुए 16 लाख 41 हजार 540 रुपए की वसूली की गई। व्यवहार न्यायालय वर्ग एक में 26 प्रकरणों में एक लाख 67 हजार 400 रुपए, न्यायालय वर्ग दो में 1 प्रकरण का निराकरण किया गया। तहसील न्यायालय के 399 प्रकरणों में 15 लाख 13 हजार 400 रुपए की वसूली हुई। सत्यनारायण लाठी, नागेंद्र जोशी, मोहन मालवीय, असलम खान, कविता सोनी, राजेश चौहान, जीवनसिंह गुर्जर, ज्ञानसिंह सेंधव, सुशील नागर आदि अधिवक्ता उपस्थित थे।

न्यायाधीशों ने पक्षकारों को बांटे पौधे

टोंकखुर्द/टोककला| न्यायालय परिसर में न्यायाधीश विकास चौहान व मधुलिका मुले ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलित कर लोक अदालत का विधिवत शुभारंभ किया। टोंकखुर्द न्यायालय में लोक अदालत के लिए गठित विकास चौहान की खंड पीठ में 30 प्रकरण व मधुलिका मुले की खंडपीठ में 11 प्रकरण रखे गए थे जिनमें से 8 प्रकरणों का निराकरण हुआ। जिनमें चेक बाउंस के 2 प्रकरणो में पक्षकारों को 515000 लाख रु. की राशि प्राप्त हुई। दोनों खंडपीठों में विभिन्न बैंकों व नगर परिषद के 500 वसूली के प्रकरण रखे गए थे।

इसमें से कई प्रकरणों का निराकरण हुआ। जिसमें बैंकों को 10,42500 रु की वसूली की राशि प्राप्त हुई। लोक अदालत में राजीनामा करने वाले पक्षकारों को न्यायाधीश विकास चौहान व मधुलिका मुले ने पौधे वितरित किए। लोक अदालत में सुलह कराने में अभिभाषक संघ अध्यक्ष सुमेरसिंह यादव, सचिव पदमसिंह उदाना, वरिष्ठ अभिभाषक दिलीपसिंह पवार, सौदानसिंह ठाकुर, जगदीशसिंह गालोदिया आदि का सराहनीय योगदान रहा।

नर्मदा झाबुआ ग्रामीण बैंक प्रकरणों में राजीनामा हुआ

खातेगांव| न्यायालय परिसर में अपर सत्र न्यायाधीश मनोज तिवारी, व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-1 चन्दनसिंह चौहान एवं व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-1 सरिता जतारिया, व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-2 शिवकुमार डाॅबर, अभिभाषक संघ के अध्यक्ष सांवलसिंह यादव, अपर लोक अभियोजक गिरधर गोपाल तिवारी, कार्यपालन यंत्री राजेन्द्र कुंडल, भारतीय स्टैट बैंक शाखा खातेगांव के शाखा प्रबंधक बालकृष्ण मेनन, नर्मदा झाबुआ ग्रामीण बैंक शाखा हरणगांव के शाखा प्रबंधक चन्द्रशेखर पंवार द्वारा महात्मा गांधी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर लोक अदालत का शुभारंभ किया।

Click to listen..