• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Tarana
  • Tarana - तराना में नए आईटीआई की मंजूरी, पढ़ाई के लिए अब नहीं आना पड़ेगा जिला मुख्यालय
--Advertisement--

तराना में नए आईटीआई की मंजूरी, पढ़ाई के लिए अब नहीं आना पड़ेगा जिला मुख्यालय

जिले की तराना विकासखंड में भी आईटीआई की शिक्षा मिल सकेगी। राज्य सरकार ने इसकी मंजूरी दे दी है। कैबिनेट से स्वीकृति...

Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 05:20 AM IST
जिले की तराना विकासखंड में भी आईटीआई की शिक्षा मिल सकेगी। राज्य सरकार ने इसकी मंजूरी दे दी है। कैबिनेट से स्वीकृति मिलने के बाद अब तराना सहित आसपास के 100 से अधिक गांवों के विद्यार्थियों को आईटीआई की पढ़ाई के लिए जिला मुख्यालय नहीं आना पड़ेगा।

तराना विधायक अनिल फिरोजिया द्वारा इसकी मांग की गई थी। फिरोजिया ने बताया कि फिलहाल केवल जिला मुख्यालय पर ही विद्यार्थियों को आईटीआई में प्रवेश मिल पाता था। तराना सहित आसपास के 100 से अधिक गांवों के विद्यार्थी दूरी के कारण आईटीआई में प्रवेश नहीं ले पाते थे। इसलिए उन्होंने राज्य सरकार के समक्ष तराना तहसील में आईटीआई खोलने की मांग रखी थी। तकनीकी शिक्षा मंत्री दीपक जोशी द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की घोषणा के परिपालन में तराना विधानसभा क्षेत्र को आईटीआई की स्वीकृति दी है। मंत्री परिषद ने प्रदेश में 11 नए आईटीआई खोलने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

कालापीपल में भी खुलेगा

उज्जैन के अलावा संभाग में शाजापुर के कालापीपल में भी आईटीआई खोलने की मंजूरी दी गई है। इन सभी 11 आईटीआई के लिए वित्तीय प्रावधान भी किए गए हैं। इनके प्रस्तावित भवनों के निर्माण के लिए प्रति आईटीआई 998 लाख रुपए के आधार पर 13 आईटीआई के लिए 12974 लाख रुपए की राशि का प्रावधान किया गया है। विधायक फिरोजिया ने आईटीआई की मंजूरी मिलने पर मुख्यमंत्री चौहान एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री जोशी का आभार माना है।

सुविधा

तराना सहित आसपास के 100 से ज्यादा गांवों के विद्यार्थियों को मिलेगी राहत