• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Tikamgarh
  • टोलियां बनाकर खूब उड़ाया रंग-गुलाल, फिल्मी गीतों पर जमकर थिरके हुरियारे
--Advertisement--

टोलियां बनाकर खूब उड़ाया रंग-गुलाल, फिल्मी गीतों पर जमकर थिरके हुरियारे

शहर के लोग शुक्रवार को पूरे रंग में रंगे दिखाई दिए। लोगों ने होली पर्व गिले-सिकवे दूर करके एक-दूसरे को अबीर-गुलाल...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 03:40 AM IST
शहर के लोग शुक्रवार को पूरे रंग में रंगे दिखाई दिए। लोगों ने होली पर्व गिले-सिकवे दूर करके एक-दूसरे को अबीर-गुलाल लगाकर रंग भरी होली मनाई। सुबह से ही युवाओं की टोलियां होली मनाने निकल पड़ी। लोगों ने टोलियां बनाकर जगह-जगह नाचते गाते हुए, एक दूसरे को अबीर गुलाल लगाकर होली की बधाई दी। लोगों ने रिश्तों को मजबूत रखने के लिए एक-दूसरे के घर जाकर होली मनाई। वहीं कुछ लोगों ने आसपास के फार्म हाउस पर जाकर कई तरह के पकवान बनाकर होली महोत्सव मनाया।

गुलाल से तिलक लगाकर पानी बचाने का संदेश देते हुए युवाओं ने सूखी होली खेली। शुक्रवार को सुबह से गांधी चौराहा, स्टेट बैंक, कटरा बाजार, नझाई रोड, लुकमान चौराहा, मिश्रा तिराहा, अस्पताल चौराहा सहित मुख्य बाजार में नौजवानों की टोलियां दिखाई दीं। ढ़ोल नगाड़ों पर नाचते गाते हुए लोग होली की मस्ती में निकले। इस दौरान शहर के प्रमुख चौराहों और सड़कों पर पुलिस के जवान तैनात रहे। पुलिस वाहन लगातार सड़कों पर भ्रमण कर लोगों से शांति पूर्वक होली मनाने की अपील करते नजर आए।

अपने रंग में रंगे दिखे युवा: सुबह से ही नगर में रंग गुलाल लगाने युवा निकल पड़े थे। अपनी टोली के साथ वाहनों पर सवार होकर एक-दूसरे को गुलाल लगाने की होड़ मची रही। सिविल लाइन रोड स्थित एमपीईबी कार्यालय के पास सैकड़ों युवाओं ने एक साथ मिलकर होली मनाई। होली के रंग मेंें इतने रंगे रहे कि युवा आपस में एक दूसरे के कपड़े फाड़ना शुरूकर दिया। इसके साथ ही अन्य स्थानों पर साउंड सिस्टम रखकर होली के गीतों पर झूमते रहे है।

श्रद्धालुओं ने भगवान के साथ खेली होली : पर्यटन नगरी कुंडेश्वर में होली पर्व पारंपरिक रूप से मनाया गया। शुक्रवार को सुबह से लोगों ने मंदिर पहुंचकर पूजा अर्चना की। भगवान भोलेनाथ को गुलाल लगाई। पंडितों ने भी भक्तों काे गुलाल लगाकर शुभकामनाएं दीं। जवाहर नवोदय स्कूल में छात्र-छात्राओं ने जमकर होली खेली। मंगलवार को भाईदूज पर्व उत्साह के साथ मनाया। मंदिर परिसर में बड़ी संख्या में ग्रामीण क्षेत्र की मंडलियों ने फाग गीत गाए।

ढोल नगाड़ों के बीच जमकर थिरके युवा। इनसेट में: महिलाओं ने गुलाल लगाकर खेली होली।

सोशल मीडिया पर भी दिखा होली का उत्साह

होली का असर जितना सड़कों पर दिखाई दिया, उससे कहीं ज्यादा उत्साह सोशल मीडिया पर दिखा। अपने घर, मोहल्ले और रिश्तेदारों के साथ होली खेलकर लोगों ने तुरंत सेल्फी खींची और फेसबुक, व्हाट्सएप पर अपलोड कर दी। सेल्फी खींचने का उत्साह हर उम्र के लोगों में दिखाई दिया। बुजुर्ग, बच्चे और युवाओं ने जमकर गुलाल से होली खेली और सेल्फी खींची। महिलाएं भी इसमें पीछे नहीं रहीं। उन्होंने सहेेलियों और घर की महिलाओं के साथ जमकर होली त्यौहार मनाया और फोटो सोशल मीडिया पर डाले।

भास्कर संवाददाता| टीकमगढ़

शहर के लोग शुक्रवार को पूरे रंग में रंगे दिखाई दिए। लोगों ने होली पर्व गिले-सिकवे दूर करके एक-दूसरे को अबीर-गुलाल लगाकर रंग भरी होली मनाई। सुबह से ही युवाओं की टोलियां होली मनाने निकल पड़ी। लोगों ने टोलियां बनाकर जगह-जगह नाचते गाते हुए, एक दूसरे को अबीर गुलाल लगाकर होली की बधाई दी। लोगों ने रिश्तों को मजबूत रखने के लिए एक-दूसरे के घर जाकर होली मनाई। वहीं कुछ लोगों ने आसपास के फार्म हाउस पर जाकर कई तरह के पकवान बनाकर होली महोत्सव मनाया।

गुलाल से तिलक लगाकर पानी बचाने का संदेश देते हुए युवाओं ने सूखी होली खेली। शुक्रवार को सुबह से गांधी चौराहा, स्टेट बैंक, कटरा बाजार, नझाई रोड, लुकमान चौराहा, मिश्रा तिराहा, अस्पताल चौराहा सहित मुख्य बाजार में नौजवानों की टोलियां दिखाई दीं। ढ़ोल नगाड़ों पर नाचते गाते हुए लोग होली की मस्ती में निकले। इस दौरान शहर के प्रमुख चौराहों और सड़कों पर पुलिस के जवान तैनात रहे। पुलिस वाहन लगातार सड़कों पर भ्रमण कर लोगों से शांति पूर्वक होली मनाने की अपील करते नजर आए।

अपने रंग में रंगे दिखे युवा: सुबह से ही नगर में रंग गुलाल लगाने युवा निकल पड़े थे। अपनी टोली के साथ वाहनों पर सवार होकर एक-दूसरे को गुलाल लगाने की होड़ मची रही। सिविल लाइन रोड स्थित एमपीईबी कार्यालय के पास सैकड़ों युवाओं ने एक साथ मिलकर होली मनाई। होली के रंग मेंें इतने रंगे रहे कि युवा आपस में एक दूसरे के कपड़े फाड़ना शुरूकर दिया। इसके साथ ही अन्य स्थानों पर साउंड सिस्टम रखकर होली के गीतों पर झूमते रहे है।

श्रद्धालुओं ने भगवान के साथ खेली होली : पर्यटन नगरी कुंडेश्वर में होली पर्व पारंपरिक रूप से मनाया गया। शुक्रवार को सुबह से लोगों ने मंदिर पहुंचकर पूजा अर्चना की। भगवान भोलेनाथ को गुलाल लगाई। पंडितों ने भी भक्तों काे गुलाल लगाकर शुभकामनाएं दीं। जवाहर नवोदय स्कूल में छात्र-छात्राओं ने जमकर होली खेली। मंगलवार को भाईदूज पर्व उत्साह के साथ मनाया। मंदिर परिसर में बड़ी संख्या में ग्रामीण क्षेत्र की मंडलियों ने फाग गीत गाए।