Home | Madhya Pradesh | Timarni | बैंकों के पास नहीं है पार्किंग, वाहनों के खड़े होने से रोज लगता है जाम

बैंकों के पास नहीं है पार्किंग, वाहनों के खड़े होने से रोज लगता है जाम

नगर की प्रमुख समस्याओं में से एक पार्किंग भी है। इसमें नगर में संचालित बैंकों के पास पार्किंग की व्यवस्था नहीं है।...

Bhaskar News Network| Last Modified - Mar 07, 2018, 05:20 AM IST

बैंकों के पास नहीं है पार्किंग, वाहनों के खड़े होने से रोज लगता है जाम
बैंकों के पास नहीं है पार्किंग, वाहनों के खड़े होने से रोज लगता है जाम
नगर की प्रमुख समस्याओं में से एक पार्किंग भी है। इसमें नगर में संचालित बैंकों के पास पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। इस कारण बैंक के बाहर वाहनों की लाइन लगी रहती है। उपभोक्ता जहां-तहां वाहन खड़े कर देते हैं। इससे वाहन चालकों को आवागमन में परेशानी आ रही है।

नगर में भारतीय स्टेट बैंक, बैंक आॅफ इंडिया, सेंट्रल बैंक, बैंक आॅफ महाराष्ट्र की शाखा मुख्य मार्ग पर है। इन शाखाओं में पार्किंग के लिए अलग से जगह नहीं है। इससे बैंक शाखा के सामने ही उपभोक्ता जहां-तहां वाहनों को खड़ा कर देते हैं। इस कारण वाहन धीरे-धीरे सड़क पर आ जाते हैं। जो जाम की स्थिति निर्मित करते हैं। पुलिस-प्रशासन की अनदेखी के कारण वाहन रेंगते रहते हैं। वहीं बैंक प्रबंधन भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। वहीं नेशनल हाईवे पर पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। वाहन चालक जहां मन आया, वहां वाहन खड़ा कर देते हैं, जो सभी के लिए परेशानियों का सबब बन रहा है। नगर परिषद का भी इस ओर ध्यान नहीं है। वहीं दुकानदार भी अपना सामान मार्ग पर जमा लेते हैं। आवारा मवेशी के कारण भी परेशानी आ रही है।

इन मार्गों पर लगता है जाम

नगर में पार्किंग की सबसे अधिक समस्या मुख्य मार्ग और बाजार क्षेत्र में है। इसमें सबसे ज्यादा मुश्किल नेशनल हाईवे, स्टेट हाईवे, न्यू मार्केट, रहटगांव रोड, सब्जी मंडी, इतवारा बाजार, मंडी रोड, कन्या शाला मार्ग और बस स्टैंड क्षेत्र में आ रही है। कई बार तो बाइक के साथ ही लोगों का पैदल निकलना तक मुश्किल हो रहा है। लेकिन इस ओर नगर पंचायत बिल्कुल ध्यान नहीं दे रही है। जो सभी के लिए परेशानियों का सबब बना हुआ है।

टिमरनी। बैंकों के बाहर जहां-तहा खड़े वाहन।

दुकानों के सामने सामान से अतिक्रमण

बैंकों के साथ ही सड़क किनारे भी अतिक्रमण बढ़ता जा रहा है। मुख्य मार्ग किनारे दुकानदार सुबह से ही सामग्री दुकानों के बाहर रोड पर जमा लेते हैं। इससे रोड की चौड़ाई कम हो जाती है। सुबह से रात तक इन मार्गों पर निकलना व सड़क पार करना कठिन रहता है। जैसे ही रात 9 बजे बाजार बंद होने लगते हैं। सड़कें भी पहले की तरह चौड़ी दिखाई देने लगती है। नगर प्रशासन और पुलिस की अनदेखी व उदासीनता से दिनभर लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

ठेला वाले भी लगा रहे जाम

नगर में बस स्टैंड चौराहे, इतवारा बाजार, सब्जी मंडी की सड़कों पर दुकानें लगी रहती है। हाथ ठेले वाले भी कब्जा जमाए रहते हैं। इससे अतिक्रमण और बढ़ता जा रहा है। इन्हें हटाने के प्रयास भी किए। लेकिन निरंतर कार्रवाई व निगरानी नहीं होने के अभाव में सड़कों पर फिर से अतिक्रमण फैलने लगा है। इससे भी बार-बार जाम लगता है। नगर एवं तहसील में हजारों दोपहिया, चार पहिया वाहन हैं। इनकी संख्या प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। इससे भी समस्या खड़ी हो रही है।

अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे

बैंकों को पार्किंग व्यवस्था बनाने के लिए कहेंगे। साथ ही दुकानदारों और अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस-प्रशासन की टीम मिलकर कार्रवाई करेगी। एचआर खाड़े, सीएमओ, टिमरनी

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now