--Advertisement--

नए बोरिंग पर प्रशासन ने 1 जुलाई तक लगाई रोक

गर्मी के शुरू होते ही तेजी से जलस्तर में गिरावट दर्ज की जा रही है। नगर सहित क्षेत्र के गांवों में हैंडपंप और कुओं का...

Dainik Bhaskar

Mar 08, 2018, 05:25 AM IST
गर्मी के शुरू होते ही तेजी से जलस्तर में गिरावट दर्ज की जा रही है। नगर सहित क्षेत्र के गांवों में हैंडपंप और कुओं का जलस्तर गिरने से बंद हो रहे हैं। इसे देखते हुए एसडीएम ने क्षेत्र में नए बोरिंग के खनन पर 1 जुलाई तक रोक लगा दी है। कोई भी बोरिंग करवाते पाया गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। गेहूं कटाई का काम शुरू हो गया है, वहीं चने की कटाई का काम अंतिम चरण में है। ऐसे में किसान तीसरी फसल के लिए मूंग की बोवनी शुरू कर देंगे। इसके लिए क्षेत्र के नदी-तालाबों से पानी लिया जाएगा। साथ ही नए बाेरिंग कराए जाएंगे। इसे देखते भविष्य में जलसंकट न हो, इसके लिए एसडीएम पीके पांडे ने सार्वजनिक जल स्रोतों से सिंचाई करने पर रोक लगा दी है। साथ 1 जुलाई तक कोई भी नलकूप व बोरिंग खनन नहीं करवा सकेगा।

मोटर जब्त की जाएगी

आदेश में कहा गया है यदि किसान नदियों पर मोटर लगाकर खेतों में सिंचाई करते हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। साथ ही मोटर जब्त की जाएगी। इन दिनों किसान अजनाल और हंसावती नदी पर मोटरें रखकर सिंचाई का कार्य कर रहे हैं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..