Hindi News »Madhya Pradesh »Timarni» 35 केंद्रों पर आज 12वीं के 5,361 छात्र देंगे परीक्षा

35 केंद्रों पर आज 12वीं के 5,361 छात्र देंगे परीक्षा

माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित दसवीं-बारहवीं की बोर्ड परीक्षाओं की जिले में तैयारियां हो गई हैं। इनमें 14,372...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 01, 2018, 05:40 AM IST

माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित दसवीं-बारहवीं की बोर्ड परीक्षाओं की जिले में तैयारियां हो गई हैं। इनमें 14,372 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। हायर सेकंडरी की परीक्षा गुरुवार से होगी। पहला पर्चा सामान्य हिंदी का है। इसके लिए 35 केंद्र बनाए हैं। इन केंद्रों पर बारहवीं की परीक्षा में 5, 361 परीक्षार्थी शामिल होंगे। इसमें हरदा में 2, 393, टिमरनी में 1485 और खिरकिया विकासखंड में 1483 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। शहर में 5 केंद्र रिजर्व रखे गए हैं। हाईस्कूल की परीक्षा 5 मार्च से शुरू होगी। इसके लिए 34 केंद्र बनाए गए हैं। दोनों परीक्षा के लिए हरदा में 11, टिमरनी में 9 व खिरकिया में 8 केंद्र बनाए हैं। इसी तरह प्राइवेट परीक्षार्थियों के लिए जिले में 6 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। जानकारी के मुताबिक दसवीं में जिले में 9011 परीक्षार्थी शामिल होंगे। इसमें हरदा विकासखंड में 3466, टिमरनी में 2893 और खिरकिया विकासखंड में 2652 परीक्षार्थी हैं। इस बार परीक्षा का समय सुबह 9 से दोपहर 12 तक रहेगा। सभी केंद्रों पर सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए गए हैं। परीक्षा केंद्र के 100 मीटर के दायरे में बाइक और बाहरी लोगों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। 100 मीटर के दायरे में धारा 144 लागू है। परीक्षा केंद्र के आसपास 4 से अधिक व्यक्ति एक साथ खड़े पाए गए तो उनके खिलाफ धारा 188 के तहत प्रकरण दर्ज होगा। सुरक्षा के मद्देनजर केंद्रों के बाहर पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। थानों से पेपर निकालते व उत्तर पुस्तिका जमा करते समय कलेक्टर की ओर से नियुक्त उनका प्रतिनिधि मौजूद रहेगा।

ऐसे होगी परीक्षा

बारहवीं :
35 केंद्र

कुल परीक्षार्थी : 5,361

परीक्षा : 1 मार्च से 3 अप्रैल तक

समय : सुबह 9 से 12 बजे तक

दसवीं : 34 परीक्षा केंद्र

कुल परीक्षार्थी : 9011

परीक्षा : 5 मार्च से 31 मार्च तक

समय : सुबह 9 से 12 बजे

तैयारियां पूरी कर ली हैं

बोर्ड परीक्षा की तैयारियां पूरी कर ली गई है। केंद्रों पर सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। केंद्राध्यक्षों सहित सभी की ड्यूटी लगा दी गई है। ब्लॉक व जिला स्तर पर उड़न दस्ते गठित किए गए हैं। जेएल रघुवंशी, डीईओ, हरदा

10वीं के नियमित छात्रों का पेपर नीला और दृष्टिबाधित का रहेगा पीला

दसवीं-बारहवीं की बोर्ड परीक्षाओं में यदि किसी भी केंद्र पर नकल होते पाई गई तो केंद्राध्यक्षों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। किसी परीक्षार्थी की उत्तर पुस्तिका गुम होती है तो परीक्षार्थी पर नहीं, केंद्राध्यक्ष पर एफआईआर दर्ज होगी। इन दिशा-निर्देशों को शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने केंद्राध्यक्षों और सहायक केंद्राध्यक्षों को बता दिया है। बोर्ड परीक्षा के दौरान दिव्यांग का प्रश्नपत्र अलग होगा। हाईस्कूल के नियमित परीक्षार्थियों का पेपर नीला, दृष्टिबाधित परीक्षार्थियों का पीले रंग का रहेगा। इससे पेपर बांटने के दौरान शिक्षकों से किसी प्रकार की गलती नहीं होगी।

मोबाइल मिला तो केंद्राध्यक्ष पर होगी कार्रवाई

परीक्षार्थियों पर नजर रखने के लिए ब्लॉक व जिला स्तर पर पांच उड़नदस्ते भी गठित किए हैं। जिला स्तर पर दो उड़नदस्ते होंगे। पहला उड़नदस्ता डीईओ जेएल रघुवंशी और दूसरा उड़नदस्ता सहायक संचालक शिक्षा एलएल वर्मा के नेतृत्व में बनाया है। दोनों उड़नदस्तों में पांच-पांच अधिकारी शामिल है। परीक्षा केंद्र पर टीचर्स या विद्यार्थी के पास मोबाइल मिला तो केंद्राध्यक्ष पर कार्रवाई होगी। परीक्षा केंद्रों के अंदर आने-जाने वाले प्रत्येक व्यक्ति पर नजर रखी जाएगी। बोर्ड परीक्षा के केंद्र में आने वाले हर व्यक्ति की होगी एंट्री होगी। प्राइवेट स्कूलों के स्टाफ और प्रबंधन के लोगों को अंदर प्रवेश नहीं मिलेगा। जो व्यक्ति अंदर जाएगा, वह गेट पर एंट्री कराएगा। उसे मोबाइल नंबर लिखना होगा। केंद्राध्यक्ष को केंद्र में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की जानकारी रखना होगी।

छह केंद्र संवदेनशील

प्राइवेट स्कूलों में बनाए गए छह केंद्र संवेदनशील घोषित किए गए हैं। इन केंद्रों पर प्रशासन की विशेष निगरानी होगी। इन संवेदनशील केंद्रों पर कलेक्टर अनय द्विवेदी ने अपने प्रतिनिधि भी नियुक्त किए हैं। संवेदनशील केंद्रों में सनरेज हरदा, हकुमुचंद मेमोरियल स्कूल खिरकिया, सेंट ज्यूड्स खिरकिया, सरस्वती विद्या मंदिर टिमरनी व रेड फ्लावर स्कूल नकवाड़ा शाामिल हैं।

परीक्षा केंद्र समय से पहले पहुंचें

बोर्ड परीक्षा में अब प्रश्न पत्र पढ़ने के लिए विद्यार्थियों को अतिरिक्त 10 मिनट का समय नहीं मिलेगा। यही नहीं, यदि परीक्षार्थी निर्धारित समय से 15 मिनट देरी से आता है तो उसे परीक्षा से वंचित होना पड़ेगा। इसलिए परीक्षा केंद्र समय से पहले पहुंच जाएं। अपने साथ मोबाइल न लाएं। क्योंकि ज्यादातर केंद्रों पर मोबाइल रखने के लिए अलग से कोई इंतजाम नहीं रहेंगे। अगर साथ ले जाते हैं तो उसे कक्ष के बाहर ही रखना होगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Timarni

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×