--Advertisement--

शिकायत पर बिजली विभाग का ध्यान नहीं, 11 केवी का तार टूटा, खेत में आग

भास्कर संवाददाता। करताना/टिमरनी क्षेत्र के नयागांव में सोमवार को गेहूं की खड़ी फसल में आग लग गई। आग 11 केवी लाइन के...

Dainik Bhaskar

Mar 06, 2018, 05:45 AM IST
शिकायत पर बिजली विभाग का ध्यान नहीं, 11 केवी का तार टूटा, खेत में आग
भास्कर संवाददाता। करताना/टिमरनी

क्षेत्र के नयागांव में सोमवार को गेहूं की खड़ी फसल में आग लग गई। आग 11 केवी लाइन के तार टूटने से लगी। जैसे ही ग्रामीणों ने खेत से धुआं उठते देखा पानी लेकर लपके। गेहूं के हरे होने से बड़ा हादसा टल गया और 15 एकड़ में लगी गेहूं की खड़ी फसल जलने से बच गई। जैसे ही ग्रामीणों ने तार टूटा देखा तो वे आक्रोशित हो गए। उनका कहना है कई बार विद्युत कंपनी के अधिकारियों को शिकायत की, लेकिन ध्यान नहीं दिया। विद्युत कंपनी की लापरवाही के कारण सोमवार को नयागांव में गेहूं की खड़ी फसल में आग लग गई। आग सोमवार सुबह 10 बजे किसान रामचंद्र देवड़ा के खेत में लगी। रामचंद्र ने बताया उनके खेत के ऊपर से 11 केवी की लाइन गुजरी है। जिसके तार टूटने से गेहूं की फसल में आग लग गई। पास के खेतों में चना कटाई का काम चल रहा है, जैसे ही खेत से धुआं उठते देखा तो सभी ग्रामीण खेत की तरफ दौड़े। केन और बाॅल्टियों से पानी डालकर आग को तुरंत बुझाया। गेहूं के हरे होने की वजह से फसल आग नहीं पकड़ सकी। नहीं तो बड़ा हादसा हो सकता था।

क्षेत्र में हो रही आग की घटनाओं से निपटने के लिए किसानों ने खेत की विद्युत सप्लाई को बंद करने की मांग की है। किसानों का कहना है कि खेतों में लगी गेहूं की फसल पक चुकी है। 10 दिनों में कटाई का काम शुरू हो जाएगा। इसे देखते हुए सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक विद्युत सप्लाई बंद की जाए। लेकिन कंपनी के अधिकारी समस्याओं का समाधान नहीं कर रहे हैं। इस कारण हादसे हो रहे हैं।

करताना। गेहूं के खेत में लगी आग बुझाते किसान।

शिकायत के बाद भी नहीं हुई कार्रवाई

नयागांव के किसानों का कहना है क्षेत्र में बार-बार बिजली के तार टूटने से आग लगने की घटना हो रही है। इसे देखते हुए किसानों ने बिजली लाइन को दुरुस्त करने और तारों की ऊंचाई बढ़ाने की शिकायत की है। खेतों से गुजरी विद्युत लाइन के तार इतने नीचे हैं कि उन्हें हाथ से छुआ जा सकता है। ऐसे में कटाई के दौरान भी हादसा हो सकता है। कंपनी के जिम्मेदार अधिकारियों को कई बार शिकायत भी कर चुके हैं, इसके बाद भी बिजली के तार कसने और लाइन को दुरुस्त नहीं किया जा रहा है।

पहले भी दो बार लग चुकी है आग

किसान रामचंद्र देवड़ा ने बताया विद्युत कंपनी के अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ रहा है। पहले भी क्षेत्र में दो बार आग लगने की घटना हो चुकी है। बिजली के तार टूटने की वजह से खड़ी गेहूं की फसल में आग लग चुकी है। यह तीसरी घटना है, जब हरे गेहूं की फसल में आग लगी है। आग लगते ही गांव की बिजली सप्लाई बंद कराई। साथ ही ग्रामीण भी मौके पर पहुंच गए। ऐसा नहीं होता तो लाखों रुपए का नुकसान हो सकता था।

समाधान कराएंगे


बस स्टैंड चौराहे पर एनएच किनारे लगे ट्रांसफार्मर

टिमरनी | नगर के सबसे व्यस्ततम बस स्टैंड चौराहे पर नेशनल हाईवे किनारे दो ट्रांसफार्मर लगे हुए हैं। एनएच किनारे ट्रांसफार्मर के हाेने से किसी भी दिन बड़ा हादसा हो सकता है। लोगों ने हादसे की आशंका के चलते इन्हें हटाने की मांग की है।

इंदौर-बैतूल नेशनल हाईवे पर बस स्टैंड चौराहे के पास विद्युत कंपनी ने दो ट्रांसफार्मर एक साथ लगा दिए हैं। एनएच से ये महज 3 फीट की दूरी पर हैं। यहां से प्रतिदिन हजारों वाहन गुजरते हैं, ऐसे में कभी भी अनियंत्रित होकर वाहन टकरा सकते हैं। ऐसे में बड़ा हादसा हो सकता है। नेशनल हाईवे और स्टेट हाईवे होने के कारण दिन-रात वाहनों की आवाजाही लगी रहती है। चौराहे से कई बार बड़े-बड़े कंटेनर और मालवाहक गुजरते हैं। ऐसे में जरा सी लापरवाही होने पर ट्रांसफार्मर से टकरा सकते हैं। वहीं ट्रांसफार्मर के शिफ्ट नहीं होने से हाईवे के चौड़ीकरण का काम भी अटका हुआ है। इसे देखते हुए दोनों ट्रांसफार्मर को मुख्य मार्ग से हटाना चाहिए। पिछले दिनों भी एक ट्रक ट्रांसफार्मर से टकराने से बचा था।


X
शिकायत पर बिजली विभाग का ध्यान नहीं, 11 केवी का तार टूटा, खेत में आग
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..