--Advertisement--

जपं का एक भी सदस्य नहीं पहुंचा, कुर्सियां रही खाली

जनपद पंचायत अध्यक्ष निधि राजपूत की कुर्सी को लेकर जारी कशमकश मंगलवार को खत्म हो गई। नोडल अधिकारी ने सदस्यों को...

Dainik Bhaskar

Mar 14, 2018, 05:50 AM IST
जपं का एक भी सदस्य नहीं पहुंचा, कुर्सियां रही खाली
जनपद पंचायत अध्यक्ष निधि राजपूत की कुर्सी को लेकर जारी कशमकश मंगलवार को खत्म हो गई। नोडल अधिकारी ने सदस्यों को बैठक में शामिल होने के लिए बुलाया, लेकिन दोपहर 3 बजे तक 25 जनपद सदस्यों में से एक भी सदस्य मौके पर नहीं पहुंचा। इस कारण कोरम पूरा नहीं हो सका। लिहाजा जपं में अध्यक्ष पद पर निधि राजपूत ही बनी रहेंगी। मंगलवार को जनपद अध्यक्ष निधि राजपूत की कुर्सी आखिरकार बच गई। भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने रूठे हुए जनपद सदस्यों को मना लिया। इस कारण अविश्वास प्रस्ताव पर दोपहर 1 से 3 बजे के बीच होने वाली वोटिंग के समय तक 25 में से एक भी जनपद सदस्य नहीं पहुंचा। जनपद में भाजपा के 22 और कांग्रेस के 3 सदस्य हैं, लेकिन कांग्रेस के 3 सदस्य भी मौके पर नहीं पहुंचे। ऐसे में चुनाव अधिकारी एसडीएम पीके पांडे ने चुनाव शून्य घोषित कर दिया। वोटिंग के लिए पुलिस प्रशासन ने पूरी व्यवस्था कर ली थी। लेकिन एक भी सदस्य नहीं अाया। इस कारण सारी कुर्सियां खाली रहीं।

समय खत्म होते सभी सदस्य पहुंचे

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर होने वाली वोटिंग को लेकर भाजपा और कांग्रेस के पदाधिकारी रूठे हुए सदस्यों को मनाने की कोशिश करते रहे। इसमें भाजपा की कोशिश रंग लाई। भाजपा के 22 सदस्यों में से एक भी सदस्य वोटिंग के दौरान नहीं पहुंचा। जो सदस्य अविश्वास प्रस्ताव लेकर आए, वे खुद भी नहीं आए। जैसे ही चुनाव का समय खत्म हुआ दोपहर 3 बजे अध्यक्ष निधि राजपूत सभी सदस्यों और कार्यकर्ताओं के साथ मौके पर पहुंची और जश्न मनाया।

चुनाव

कांग्रेस के 3 सदस्य भी नहीं आए वोटिंग करने, निधि राजपूत जनपद अध्यक्ष बनी रहेंगी

टिमरनी। चुनाव में सदस्यों के लगाई कुर्सियां पूरी खाली रहीं।

निधि जनपद अध्यक्ष बनी रहेंगी


X
जपं का एक भी सदस्य नहीं पहुंचा, कुर्सियां रही खाली
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..