--Advertisement--

मध्यस्थता समय की जरूरत और निष्पक्ष प्रक्रिया : बिल्लौरे

टिमरनी| न्यायालय में शनिवार को राष्ट्रीय विविध सेवा प्राधिकरण के निर्देश पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश शशिकला...

Dainik Bhaskar

Mar 11, 2018, 06:00 AM IST
मध्यस्थता समय की जरूरत और निष्पक्ष प्रक्रिया : बिल्लौरे
टिमरनी| न्यायालय में शनिवार को राष्ट्रीय विविध सेवा प्राधिकरण के निर्देश पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश शशिकला चंद्रा के मार्गदर्शन में जागरूक शिविर आयोजित किया। शिविर श्रंखला न्यायालय टिमरनी में शनिवार को हुआ। इसमें न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी अतुल बिल्लौरे ने कहा मध्यस्थता समय की जरूरत है। यह विवादों के निराकरण की आधुनिक सरल एवं निष्पक्ष प्रक्रिया है। मध्यस्थता के माध्यम से मामले का अंतिम समाधान हो जाता है। इससे संबंधों में मधुरता आती है। 14 अप्रैल को होने वाले नेशनल लोक अदालत के बारे में भी उपस्थित लोगों से कहा पक्षकार अपने राजीनामा योग्य प्रकरणों का निराकरण आपसी समझौतों से नेशनल लोक अदालत में करा सकते हैं। इस दौरान बार संघ अध्यक्ष डीएन मालाकार, पैनल अधिवक्ता हिमांशु बंसल सहित अन्य मौजूद रहे।

X
मध्यस्थता समय की जरूरत और निष्पक्ष प्रक्रिया : बिल्लौरे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..